आज होगी माँ की अपने मायके से विदाई..देर शाम नैनी झील में होगा विसर्जन…

168

भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करने वाली माँ नंदा-सुनंदा की होने वाली है अपने मायके से विदाई..भारी मन से भक्त कर रहे अक्षत व पुष्प अर्पण…

सरोवर नगरी नैनीताल में आज माँ नंदा-सुनंदा के डोले का नगर भ्रमण का कार्यक्रम चल रहा है।ऐसा कहा जाता है कि कुमाऊं की कुल देवी मां नंदा-सुनंदा अष्टमी के दिन अपने मायके नैनीताल में आसीन होकर आज के दिन अपने ससुराल को विदा होती हैं।इस नगर भ्रमण के कार्यक्रम में स्थानीय व आगंतुक भक्तों का भारी भीड़ माँ के डोले के साथ चल रही है।ऐसा कहा जाता है कि आज माँ की अपने मायके से विदाई व कैलाश पर्वत ससुराल को प्रस्थान किया था।भक्तों के भीतर भारी उत्साह है।वे लगातार माँ के जयकारे लगाते हुए आस्था का गुणगान कर रहे हैं।आस्था व भक्ति का समागम देखते ही बनता है।आपको बता दें कि आज देर शाम को नैनी लेक में माँ के डोले का विसर्जन किया जाएगा।

आस्थावानों को अब माँ से ही अंतिम उम्मीद..भूस्खलन से जल्द मिलेगी निजात…

राम सेवक सभा के अध्यक्ष मनोज शाह व महा सचिव जगदीश बवाड़ी ने बताया कि सरोवर नगरी पर माँ की विशेष कृपा है तभी विगत दिवस जिस दिन नैनीताल में बह्म मुहूर्त में माँ की मूर्तियों की स्थापना हुई थी उसी दिन भूस्खलन की घटना भी हुई लेकिन माँ के आशीर्वाद से किसी को ख़रोंच भी नही आयी।महा सचिव जगदीश बवाड़ी ने कहा कि माँ से विशेष प्रार्थना की गई कि सभी जनों के प्राणों की रक्षा करे व जीवन दान दे।उन्होंने कहा कि माँ अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं।