@ खुलासा… ★. पति को छोड़कर लिव इन में रह रही महिला का पार्टनर ही निकला हत्यारा, दम्पत्ति गिरफ्तार ★. शादी के बाद पार्टनर को रास्ते से हटाने के लिए दिया था वारदात को अंजाम रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

280

@ खुलासा…

★. पति को छोड़कर लिव इन में रह रही महिला का पार्टनर ही निकला हत्यारा, दम्पत्ति गिरफ्तार

★. शादी के बाद पार्टनर को रास्ते से हटाने के लिए दिया था वारदात को अंजाम

रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

गंगानगरी हरिद्वार

हरिद्वार मनसा देवी पैदल मार्ग पर 16 मई को मिले महिला के शव से पुलिस ने पर्दा हटाते हुए आरोपित महिला के लिवइन पार्टनर को गिरफ्तार किया है। आरोपित ने शादी के बाद महिला पार्टनर को रास्ते से हटाने के लिए इस बड़ी वारदात को अंजाम दिया था।घटना को मायापुर चौकी में खुलासा करते हुए एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि 16 मई को मनसा देवी मंदिर पैदल मार्ग से आगे एक अज्ञात महिला का शव मिला था। प्रथम दृष्टया हत्या किए जाने का मामला प्रतीत हुआ। प्रयास करने के बाद मृतका की शिनाख्त पूजा मिश्रा पुत्री विजय मिश्रा निवासी धनसिया मधबनी बिहार के रुप में हुई। मोबाइल नंबर स्वामी ने स्वयं को मृतका का पति बताते हुए जानकारी दी कि उसकी पत्नी पूजा 02 वर्ष पूर्व घर से भाग गयी थी। बताया कि मृतका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण गला दबाना आया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलते ही नगर कोतवाली में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।एसएसपी ने बताया कि महिला को न्याय दिलाने के लिए हत्यारोपी की जल्द तलाश के लिए गठित पुलिस टीमों ने मनसा देवी को आने-जाने वाले सीसीटीवी कैमरों की गहनता से जांच की। जिसमें 15 मई को मृतका के साथ एक पुरूष, महिला व एक बच्चा दिखाई दिया, लेकिन वापसी के समय संदिग्ध पुरूष, महिला तथा बच्चे के साथ मृतका मौजूद नहीं थी। हाथी पुल के पास चाय की दुकान के मालिक द्वारा संदिग्ध के गुगल अफोन से भूगतान करने की जानकारी देते हुए यूपीआई आईडी उपलब्ध करायी गई।

पुलिस टीम ने जुटाई गई जानकारी के आधार पर संदिग्धों की तलाश जारी रखते मुखबिर की मदद से दोनों संदिग्ध को खडखडी के पास से गिरफ्तार कर लिया। संदिग्ध दंपत्ति रोशन कुमार कामत पुत्र सुरेश कुमार कामत हाल निवासी खांडसा गुरूग्राम हरियाणा व महक (बदला हुआ नाम) पत्नी रोशन कुमार कामत से पूछताछ में जानकारी मिली कि मृतका की शादी बिहार निवासी मोनू कुमार से हुयी थी, लेकिन 02 साल पहले वो वहां से भागकर हरियाणा आ गयी और रोशन के साथ लिवइन में रहने लगी। कुछ समय बाद रोशन की शादी किसी अन्य युवती (महक) से हो गयी। शुरुआत में गांव में रह रही महक जब अपने पति के साथ रहने हरियाणा आयी तो अवैध संबंधों की जानकारी होने पर महक ने एतराज जताया। अलग रहने को कहने पर अक्सर रोशन और पूजा के बीच झगडे होने लगे।

इस बीच जब तीनों बच्चे सहित घुमने हरिद्वार आये और मनसा देवी दर्शन के लिए गए तो एक बार फिर रोशन और पूजा के बीच झगडा होता देख महक बच्चे के साथ पास ही सो गई। इस बीच रोशन ने गला दबाकर पूजा की हत्या कर दी और शव को नीचे खाई में फेंक दिया। बगल में ही बच्चे के साथ सो रही महक ने उठने के बाद जब पूजा के बारे में पूछा तो रोशन ने उसे पूरा वाक्या बता दिया। इसके बाद पुलिस कार्यवाही के डर से दोनों बच्चे के साथ वापस गुरूग्राम भाग गए। दंपत्ति आज ये जानने हरिद्वार पहुंचे थे कि पूजा जिंदा है या मर चुकी है।

जांच के दौरान जानकारी ये भी मिली कि उक्त दंपत्ति द्वारा साथ में दिख रहे 06 माह के बच्चे (आर्यन) को 18 मई को हरियाणा मानेसर के कार्सन टेंपल में लावारिस हालात में छोड़ दिया गया। इस संबंध में इनके खिलाफ थाना सेक्टर 7 आईएमसी गुडगाँव हरियाणा में मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनका चालान कर दिया है