@ चम्पावत सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को शत प्रतिशत दिलायें अधिकारी – जिलाधिकारी चंपावत…… ★. जिला स्तरीय पुनरीक्षण समन्वय समिति एवं एसबीआई आरसेटी चंपावत की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक …. ★रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर” चम्पावत…..

322

@ चम्पावत सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को शत प्रतिशत दिलायें अधिकारी – जिलाधिकारी चंपावत……

★. जिला स्तरीय पुनरीक्षण समन्वय समिति एवं एसबीआई आरसेटी चंपावत की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक ….

★रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर” चम्पावत…..

चम्पावत:
जिला स्तरीय पुनरीक्षण समन्वय समिति (डीएलआरसी) एवं एसबीआई आरसेटी चंपावत की जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक में जिलाधिकारी नवनीत पांडे की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में *बैंक रहित सभी गांव व क्षेत्र में बैंकिंग सेवा उपलब्ध कराने, डिजिटल लेनदेन को बढ़ाये जाने, व उसे शत प्रतिशत कराए जाने,दूरस्थ क्षेत्रों में वित्तीय साक्षरता हेतु विकास खंड से लेकर न्याय पंचायत व ग्राम पंचायत स्तर तक वित्तीय साक्षरता शिविर लगाए जाने, बैंकों व विभागों के समन्वय से ग्रामीण स्तर पर अधिक से अधिक लोगों को स्वरोजगार हेतु प्रेरित करने के साथ ही बैंकों के माध्यम से उन्हें सरकारी योजना अंतर्गत ऋण उपलब्ध कराये जाने, जिले का ऋण जमा अनुपात प्रतिशत 40 फीसदी तक बढ़ाये जाने के साथ ही विभिन्न क्षेत्र, कृषि, दुग्ध उत्पादन, मशरूम उत्पादन, मौन पालन, औद्यानिकी व ओद्योगिक क्षेत्र को बढ़ावा देते हुए आपसी समन्वय के साथ कार्य करने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा सभी बैंकर्स एवं विभागों से आए अधिकारियों को दिए गए।
जिलाधिकारी ने कहा कि आदर्श चंपावत को बनाने में बैंकों की भी अहम भूमिका है इस हेतु वह सभी सेक्टरों में अधिकाधिक ऋण वितरण व वित्त पोषित कर अधिक से अधिक लोगों को रोजगार मुहैया कराएं। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य में सभी बैंक प्राथमिकता से ऋणों में वृद्धि हेतु कार्य योजना बनाएं। ग्रामीण क्षेत्रों में महिला स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से वित्तीय गतिविधियों को बढ़ाया जाए तथा विभिन्न विभागों के माध्यम से सरकारी योजना अंतर्गत जो भी आवेदन बैंकों से प्राप्त होते हैं प्राथमिकता से उनका निस्तारण सभी बैंक कर आवेदक को ऋण प्रदान करें। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी बैंक यह प्रयास करें कि एक भी आवेदन बैंक में न रुके उसका निस्तारण हो इस हेतु बैंक व संबंधित विभाग आपसी समन्वय से कार्य करते हुए शत प्रतिशत लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करें।
बैठक में विभिन्न योजनाओं राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, पीएम स्वनिधि योजना, स्पेशल कंपोनेंट प्लान, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, नैनो योजना, वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना, दीनदयाल उपाध्याय होमस्टे योजना, स्टैंड अप इंडिया, प्रधानमंत्री जन धन योजना, सामाजिक बीमा योजना की समीक्षा करते हुए सभी बैंकों से आए अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी आवेदन उनकी बैंक शाखा में विभाग द्वारा समिति से संस्तुति कर भेजे जाते हैं उनका तत्काल निस्तारण कराया जाए। जिलाधिकारी ने सभी *संबंधित विभागों उद्योग, पर्यटन, नगर विकास, ग्रामीण विकास व मत्स्य आदि समेत सभी बैंकों से आए अधिकारियों को निर्देश दिए कि इन योजनाओं में दिए गए लक्ष्यों को आगामी 31 दिसंबर तक शत प्रतिशत पूर्ण करना है। इस हेतु अभी से आपसी समन्वय से कार्य करें।
जिलाधिकारी ने बैठक में बीमा कंपनी से आए प्रतिनिधि को भी निर्देश दिए कि जिले में काश्तकारों, किसानों की फसलों का क्लेम का शत प्रतिशत भुगतान समयानतर्गत किया जाए। इस हेतु बीमा कंपनी के प्रतिनिधि किसानों के बीच जाकर उनकी फसल उत्पादन के नुकसान का समय पर आकलन कर उन्हें भुगतान की राशि उपलब्ध कराएं। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान आरसेटी चंपावत द्वारा संचालित प्रशिक्षण कार्यक्रमों आदि की भी समीक्षा करते हुए संस्थान से आए प्रतिनिधियों को निर्देश दिए कि संस्थान जिले के युवाओं को ऐसे प्रशिक्षण कार्यक्रम उपलब्ध कराएं की प्रशिक्षणार्थी तत्काल अपना रोजगार कर सके। साथ ही उन्हें वित्तीय साक्षरता प्रदान कर सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान कर उनको स्वरोजगार के लिए प्रेरित करें। बैठक में भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक सिडबी से आई प्रतिनिधि सपना द्वारा जिले में बैंकों के साथ समन्वय कर स्वरोजगार व औद्योगिक क्षेत्र में कराए गए कार्यों के बारे में जानकारी दी गई।
बैठक में जिला लीड बैंक अधिकारी अमर सिंह ग्वाल, भारतीय रिजर्व बैंक से आए सहायक प्रबंधक दिग्विजय सिंह साजवाण, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड राकेश सिंह कन्याल, भूमि संरक्षण अधिकारी हिमांशु जोशी, जिला उद्यान अधिकारी टीएन पांडे, महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र दीपक मुरारी सहित विभिन्न विभागों व बैंकों से आए अधिकारी व बैंक प्रबंधक उपस्थित रहे।