@देवभूमि को बनाना है खेल भूमि,सरकार है प्रतिबद्ध-रेखा आर्या… ★ खेल मंत्री रेखा आर्या ने देहरादून में IOA के ध्वज को मुख्यमंत्री धामी को किया हस्तान्तरण…. ★गोवा में आयोजित 37 वे राष्ट्रीय खेल में उत्तराखण्ड राज्य के पदक विजेता खिलाडियों का किया गया सम्मान समारोह.. ★खिलाड़ी 38 वे राष्ट्रीय खेलो के लिए अभी से जुट जाएं जी जान से-मुख्यमंत्री धामी…. ★रिपोर्ट-(चंदन सिंह बिष्ट ) “स्टार खबर” नैनीताल…

36
  • @देवभूमि को बनाना है खेल भूमि,सरकार है प्रतिबद्ध-रेखा आर्या…

★ खेल मंत्री रेखा आर्या ने देहरादून में IOA के ध्वज को मुख्यमंत्री धामी को किया हस्तान्तरण….

★गोवा में आयोजित 37 वे राष्ट्रीय खेल में उत्तराखण्ड राज्य के पदक विजेता खिलाडियों का किया गया सम्मान समारोह..

★खिलाड़ी 38 वे राष्ट्रीय खेलो के लिए अभी से जुट जाएं जी जान से-मुख्यमंत्री धामी….

★रिपोर्ट-(चंदन सिंह बिष्ट ) “स्टार खबर” नैनीताल…

देहरादून-आज महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज,देहरादून में 38 वें राष्ट्रीय खेल का ध्वज हस्तान्तरण एवं 37 वें राष्ट्रीय खेल गोवा- 2023 में उत्तराखण्ड राज्य के पदक विजेता खिलाडियों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया।कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया।वही कार्यक्रम में संविदा प्रशिक्षकों द्वारा मानदेय वृद्धि पर मुख्यमंत्री व खेल मंत्री का धन्यवाद ज्ञापित किया गया।खेल पर्सिक्षक शिवानी गुरंग द्वारा कहा कि हमारी बेहद पुरानी मांग थी की हमारा मानदेय बढ़ाया जाए जिसे की सरकार द्वारा पूरा किया गया है यह बेहद ही खुशी की बात है।

इस दैरान IOA के ध्वज को राष्ट्रीय खेल सचिवालय में स्थापित किया गया। साथ ही गोवा में आयोजित 37 वे राष्ट्रीय खेल में पदक विजेता खिलाड़ियों को सम्मानित भी किया गया।

वही मुख्य अतिथि पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि आज हमारे राज्य को 38 वे राष्ट्रीय खेल का आयोजन मिला है जो कि गर्व की बात है।हम 38 वे राष्ट्रीय खेलो का आयोजन दिव्य व भव्य करेंगे।आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में खेल और खिलाड़ियो के लिए कई सुविधाओं को विकसित किया गया है।आज प्रदेश सरकार भी खिलाड़ियो के प्रति गंभीर है जिसके लिए मुख्यमंत्री उदीयमान योजना,मुख्यमंत्री प्रोत्साहन राशि योजना,भोजन भत्ता बढ़ाने से लेकर कई अन्य योजनाए शामिल हैं।उन्होंने कहा कि जीवन मे सफलता का एक ही विकल्प होना चाहिए और संकल्प है विकल्परहित संकल्प, जब हम कोई संकल्प लेते है तो उसे पूरा करने का प्रयास अवश्य करना चाहिए।

वहीं खेल मंत्री ने कहा कि 38 वे रास्ट्रीय खेलो की मेजबानी मिलना प्रदेश के लिए गर्व की बात है।कहा कि जिसप्रकार गोवा राज्य ने 37 वे राष्ट्रीय खेलो को आयोजित किया हम भी 38 वे राष्ट्रीय खेलो का आयोजन भव्य रुप से करेंगे।कहा कि आज खेल व खिलाड़ियो के लिए राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री धामी जी के कुशल नेतृत्व में अभूतपूर्व कार्य किये हैं।

खेल मंत्री ने बताया कि आउट ऑफ टर्न जॉब का जिओ जारी होने पर निश्चित ही राज्य के ऐसे खिलाड़ी जो राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए पदक ला रहे हैं उन्हें आउट ऑफ टर्न जॉब के माध्यम से नौकरी मिलेगी।कहा कि राज्य सरकार लगातार खेल को बढ़ावा देने व खिलाड़ियो को प्रोत्साहन के लिए काम कर रही है।हमारी कोशिश है कि हम खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट काम करे।खेल और खिलाड़ियो के हितों के लिए कई निर्णय लिए जा रहे है।

खेल मंत्री रेखा आर्या ने जानकारी देते हुए बताया कि खेल नीति, 2021 के अन्तर्गत, अन्तर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों को उत्तराखण्ड में राजपत्रित/ अराजपत्रित पदों पर आउट ऑफ टर्न सेवायोजन प्रदान किये जाने के सम्बन्ध में निर्णय लिया गया था जिसका की सरकार द्वारा सहर्ष स्वीकृति भी प्रदान कर दी गयी है।

साथ ही कहा कि आज 8 से 14 वर्ष के बच्चो की खेल प्रतिभा को निखारने के लिए मुख्यमंत्री उदीयमान योजना संचालित है जिसके तहत हर जनपद से 150 बालक व 150 बालिकाओं को प्रतिमाह 1500 रुपिये की छात्रवर्ती दी जा रही है, साथ ही 14 से 23 वर्ष के बालक/बालिकाओं के लिए मुख्यमंत्री प्रोत्साहन राशि के तहत हर जनपद से 100 बालक/बालिकाओं को हर माह 2 हजार की राशि भी प्रदान की जा रही है।

खेल विभाग की उपलब्धियां बताते हुए उन्होंने कहा कि हमने संविदा पर कार्य कर रहे प्रशिक्षको के मानदेय को बढ़ाते हुए 25 हजार किया है।साथ ही भोजन की थाली को साई (SAI) के अनुरूप 400 करने का काम भी किया है।इसके अलावा स्पोर्ट्स डेवलपमेंट फण्ड,महिला स्पोर्ट्स कॉलेज के लिए लोहाघाट में घोषणा की गई है जिसके लिए भूमि का चयन किया जा रहा है।

खेल मंत्री ने कहा कि राज्य में खेल विश्वविद्यालय के लिए भी मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में घोषणा की जा चुकी है,निश्चित ही खेल विश्वविद्यालय के बन जाने से राज्य के खिलाड़ियो को लाभ मिलेगा।कहा कि 38 वे राष्ट्रीय खेलो के आयोजन तक हम खिलाड़ियो को सरकारी नौकरी में अवसर देने के लिए 4 पर्तिशत का आरक्षण लागू कर देंगे।कहा कि मुझे गर्व है कि हमारे प्रधानमंत्री जी व मुख्यमंत्री जी खेल औऱ खिलाड़ियो को बढ़ावा देने के लिए लगातार कार्य कर रहे हैं ।कहा कि जिसप्रकार से हम प्रदेश को देवभूमि के नाम से जानते है हमारा प्रयास है कि हम इसे खेल भूमि के नाम से जाने जिसके लिए सरकार व विभाग लगातार प्रयासरत है।

इस अवसर पर रायपुर विधायक  उमेश शर्मा काउ जी,खेल सचिव  अमित सिन्हा ,खेल निदेशक  जितेंद्र सोनकर ,उत्तराखंड ओलंपिक संघ के महासचिव  डीके सिंह  सहित अधिकारीगण व समस्त खिलाड़ी उपस्थित रहे।