@ कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल के तत्वाधान में द्वि-दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी….. ★योग गुरु मोहन भंडारी और शुभम तोमर ने चीन से और डॉ० विजय कुमार सिंह भूटान देश से ऑनलाइन माध्यम से इस कार्यक्रम मे प्रतिभाग किया…. ★रिपोर्ट- (सुनील भारती) “स्टार खबर” नैनीताल,….

58

@ कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल के तत्वाधान में द्वि-दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी…..

★योग गुरु मोहन भंडारी और शुभम तोमर ने चीन से और डॉ० विजय कुमार सिंह भूटान देश से ऑनलाइन माध्यम से इस कार्यक्रम मे प्रतिभाग किया….

★रिपोर्ट- (सुनील भारती) “स्टार खबर” नैनीताल,….

नैनीताल- योग विज्ञान विभाग, डीएसबी परिसर, कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल के तत्वाधान में द्वि-दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के दूसरे दिन आज के कार्यक्रम का उत्घाटन दिनेश चंद्रा कुलसाचिव कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल द्वारा किया गया। इसके उपरांत दिनेश चंद्रा– कुलसचिव, दुर्गेश ढिमरी, कैलाश चन्द्र जोशी, डॉ० महेन्द्र राना, प्रो० महेंद्र सावंत, अवधेश कुमार मिश्रा, अमरेन्द्र कुमार मिश्रा, डॉ० विजय कुमार, डॉ० संतोष कुमार, डॉ० राहुल चंद्रा, डॉ० प्रियंका रूवाली, डॉ० दीपशिका जोशी, डॉ० रूचि साह, डॉ० नागेंद्र शर्मा – आयोजक सचिव और डॉ० सीमा चौहान संयोजक ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

 

इस कार्यक्रम मे योग गुरु मोहन भंडारी और शुभम तोमर ने चीन से और डॉ० विजय कुमार सिंह भूटान देश से ऑनलाइन माध्यम से इस कार्यक्रम मे प्रतिभाग किया। तत्पश्चात दिनेश चंद्रा द्वारा आधुनिक समय मैं स्वास्थ्य रहने के लिए योग को एक महत्वपूर्ण साधन बताया तथा योग विज्ञान विभाग द्वारा किए जा रही इस दो दिवसीय संगोष्ठी के लिए बधाई दी। डॉ० सीमा चौहान द्वारा कार्यकर्म की संक्षिप्त ररूपरेखा प्रस्तुत की गई। अमरेन्द्र कुमार मिश्रा द्वारा कविता पाठ के माध्यम से महिला और स्वास्थ्य विषय पर संबोधन दिया गया।
प्रो० महेन्द्र राना और कैलाश चंद्र जोशी द्वारा अपने अनुभवों को साझा करते हुए योग एवं महीला स्वास्थ्य पर एक वृहद प्रस्तुतिकरण दिया गया। इस कार्यक्रम में डॉ० नवीन भट्ट– विभागाध्यस योग विभाग एस एस जे विश्वविद्यालय ने ऑनलाइन जुड़ कर महिलाओ के स्वास्थय पर हो रहे कार्यो पर अपने विचार को रखा। डॉ० राहुल चंद्रा द्वारा सस्वस्थ रहने के लिए योग को अपनाने के लिए कहा गया। इसके पश्चात् तकनीकी सत्र प्रारंभ हुआ जिसमें निर्णायक की भूमिका में डॉ० प्रियंका रुबाली, प्रो० दीपशिका जोशी, डॉ० रूचि साह, डॉ० राहुल चंद्रा, अवधेश कुमार मिश्रा, डॉ० अमरेंद्र कुमार मिश्रा एवं श्रीमति ज्योति चुफाल ने किया। तकनीकी सत्र में 28 ऑनलाइन/ ऑफलाइन माध्यम से शोध पत्र पढ़े गए एवं इस कार्यकर्म में 158 से अधिक प्रतिभागियो ने प्रतिभाग किया।

आज के तकनीकी सत्र का संचालन शुभम विश्वकर्मा द्वारा किया गया। इसके साथ ही “आज की दुनिया में महिलाओं का स्वास्थ्य“ विषय पर एक पोस्टर एवं चित्रकला प्रतियोगिता भी कराई गई जिसमें प्रथम स्थान प्राची देव, द्वितीय स्थान नीलम दास और तृतीय स्थान पर खुशी शर्मा रहे जिन्हे नगद पुरस्कार प्रदान किया गया। इसके पश्चात डॉ० अशोक कुमार की पुत्रियों यशिका और सुनंदा द्वारा एक आर्टिस्टिक योगासन पर प्रस्तुति दी गई। उक्त कार्यक्रम उप कुलसचिव –दुर्गेश ढिमरी, डॉ० अशोक कुमार, डॉ० सरोज पालीवाल, डॉ० सीता देवली, डॉ० दीपक मेलकानी, आदि मौजूद रहे। इस कार्यक्रम का अंत डॉ० नागेंद्र शर्मा द्वारा सभी प्रतिभागियों को बधाई देकर प्रमाण पत्र वितरण के साथ किया गया।