भवाली डिपो के चालक परिचालक से मारपीट और अभद्रता, टिकट मांगने को लेकर उपजा विवाद

56

नैनीताल से आगरा जाने वाली बस में चालक और परिचालक के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है। मारपीट के दौरान लाठी से बस के दरवाजे का शीशा टूट गया। यह देख बस में बैठीं सवारियां डर गईं और वहां हड़कंप की स्थिति बन गई। एटा में हुई इस घटना के बाद इस मामले को लेकर चालक परिचालकों में रोष बना हुआ है।
बताया जा रहा है कि नैनीताल से भवाली डिपो की बस हल्द्वानी से रात करीब आठ बजे के बाद 50 सवारियों को लेकर आगरा के लिए चली थी। बस स्टाफ के अनुसार एटा से तीन किमी आगे आगरा हाईवे पर 30-35 कांवड़ियों ने गाड़ी को जबरन रुकवा दिया। साथ ही एटा से आगरा जाने की बात बोलकर बस में बैठ गए। परिचालक द्वारा जब उनसे टिकट लेने को कहा तो उन्होंने अभद्रता शुरू कर दी। आरोप है कि चालक और परिचालक के साथ मारपीट और यात्रियों संग भी उन्होंने गलत व्यवहार किया। बस के मुख्य द्वार का शीशा तोड़ दिया। इस पूरी घटना से सभी काफी घबरा गए थे।
सूत्रों के अनुसार कांवड़ियों को लेकर भवाली डिपो के इंचार्ज को भी अवगत कराया गया था। लेकिन इंचार्ज ने रूट को लेकर कोई बदलाव नहीं किया। इंचार्ज के इस फैसले के बाद डिपो के चालक परिचालकों में रोष बना हुआ है। बताया जा रहा है कि इस संबंध में चालक और परिचालको ने वरिष्ठ स्टेशन प्रभारी से भी शिकायत की है।