@.अपराध… ★. उत्तराखंड ”मित्र पुलिस” ऐसा भी करती है… ★. रिजॉर्ट के मालिक को गिरफ्तार करना कोतवाल पर पड़ा भारी अब हो गये सस्पेंड… ★. रिजॉर्ट में फर्जी तरीके से शराब की 10 बोतल खाली और एक आधी भरी बोतल दिखा कर किया था गिरफ्तार… रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

462

@.अपराध…

★. उत्तराखंड ”मित्र पुलिस” ऐसा भी करती है…

★. रिजॉर्ट के मालिक को गिरफ्तार करना कोतवाल पर पड़ा भारी अब हो गये सस्पेंड…

★. रिजॉर्ट में फर्जी तरीके से शराब की 10 बोतल खाली और एक आधी भरी बोतल दिखा कर किया था गिरफ्तार…

  • रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

रामनगर नैनीताल
कुमाऊँ डीआईजी योगेंद्र सिंह रावत ने रामनगर कोतवाल को सस्पेंड कर दिया है उन्हें एक रिसॉर्ट के मैनेजर को गिरफ्तार करने पर यह कार्रवाई की गई है

★ आईये अब पूरा मामला समझते हैं★

बता दें कि नैनीताल हाईकोर्ट ने रामनगर टाइगर कैंप रिजॉर्ट मैनेजर राजीव शाह के खिलाफ फिर और गिरफ्तारी के मामले में रामनगर कोतवाल गर्जिया चौकी इंचार्ज और सी दीपक बिष्ट के खिलाफ दायर और अवमानना याचिका पर सुनवाई कीयाचिकाकर्ता के अनुसार 29 नवंबर को दोपहर में पुलिस ने उसे पर रिसोर्ट में मुक्त में कमरा देने के दबाव बनाया उन्होंने रिजॉर्ट शादी में बुक होने के कारण कमरा देने में असमर्थ जाहिर की इसके बाद दुर्भावना से उसी रात कोतवाल के आदेश पर पुलिस ने रिसोर्ट में चल रहे शादी समारोह के बाद छापा मार कर फर्जी तरीके से शराब की 10 खाली बोतल और एक आधी भरी बोतल बरामद दिखाकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।गिरफ्तारी के बाद रात भर मैनेजर को थाने में बैठकर सुबह अपराधियों की तरह अभिरक्षा में उनका फोटो मीडिया को जारी किया गया और रिमांड के लिए कोर्ट में पेश किया गया जबकि आबकारी अधिनियम के ऐसे अपराध के लिए सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देश के मुताबिक सीधे गिरफ्तारी नहीं की जा सकता 4 दिसंबर 2023 को इस संबंध में हाईकोर्ट की ओर से डीजीपी और गृह सचिव सहित सभी जिम्मेदार अधिकारियों को सर्कुलर भी जारी किया गया था जमानती है अपराधियों में नागरिकों को बिना नोटिस सीधे गिरफ्तार नहीं किया जा सकता रामनगर कोतवाल अरुण सैनी गर्जिया चौकी इंचार्ज प्रकाश पोखरियाल और एसआई दीपक बिष्ट के विरुद्ध और अवमानना याचिका दायर की गई कोर्ट ने मामले में डीजीपी और प्रमुख सचिव गृह को मंगलवार को अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उपस्थित होने का आदेश दिया है ,मामले की सुनवाई न्यायाधीश न्यायमूर्ति राकेश तापलियाल की एकल पीठ में हुई ।