@. खेल… ★. गौलापार के कमल कन्याल ने खेली कप्तानी पारी … ★. सीके नायडू ट्रॉफी में खेली 142 रनों की धमाकेदार पारी,उत्तराखंड को दिलाई बड़ी जीत रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

189

@. खेल…

★. गौलापार के कमल कन्याल ने खेली कप्तानी पारी …

★. सीके नायडू ट्रॉफी में खेली 142 रनों की धमाकेदार पारी,उत्तराखंड को दिलाई बड़ी जीत

रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

हल्द्वानी गौलापार
अंडर-23 कर्नल सीके नायडू क्रिकेट टूर्नामेंट में उत्तराखंड ने शानदार शुरुआत की है। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड ने पहले मुकाबले में बंगाल को 5 विकेट से हराया। उत्तराखंड के लिए कप्तान कमल सिंह कन्याल ने नाबाद 142 रनों की शानदार पारी खेली।

मुकाबला की समरी पर गौर करें तो बंगाल ने पहली पारी में 174 बनाए। उत्तराखंड के लिए देवेंद्र बोरा ने सर्वाधिक पांच विकेट अपने नाम किए। जवाब में उत्तराखंड की टीम केवल 129 रन ही बना पाई और बंगाल को 45 रनों की बढ़त मिल गई थी। दूसरी पारी में उत्तराखंड के गेंदबाजों का प्रदर्शन शानदार रहा और बंगाल को 248 रनों पर ऑल आउट कर दिया। उत्तराखंड के लिए एक बार फिर देवेंद्र बोरा ने 5 विकेट झटके।लक्ष्य का पीछा करने उतरी उत्तराखंड की शुरुआत तो अच्छी नहीं रही थी लेकिन कमल ने कप्तानी पारी खेली। उन्होंने टीम को संकट से उभारा। उन्होंने एक कर संभाल कर रखा और दूसरे छोर से उन्हें दूसरे बल्लेबाजों का अच्छा साथ मिला हालांकि कमल के अलावा कोई भी बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं बन पाया। कप्तान कमल ने ना सिर्फ शतक पूरा किया बल्कि 142 रन बनाकर नॉटआउट रहे। उनकी इस पारी में 17 चौके और एक छक्का शामिल था, जिसकी बदौलत उत्तराखंड 5 विकेट से मुकाबला अपने नाम करने में कामयाब रही। कमल कन्याल का वनडे टूर्नामेंट में भी प्रदर्शन शानदार रहा था।

हल्द्वानी गौलापार के रहने वाले कमल साल 2019-2020 सीजन में सुर्खियों में आए थे। उस साल उन्होंने पूरे सीजन में एक हजार से ज्यादा रन बनाए थे। कमल सिंह कन्याल उत्तराखंड सीनियर टीम का हिस्सा रह चुके हैं। वो उत्तराखंड के पहले बल्लेबाज ने जिन्होंने रणजी ट्रॉफी डेब्यू में शतक जमाया। सीनियर खिलाड़ियों की वापसी के बाद कमल भले ही सीनियर टीम का हिस्सा नहीं हैं लेकिन अंडर-23 में वो शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। कमल की कप्तानी में उत्तराखंड ने अंडर-23 वनडे टूर्नामेंट में फाइनल तक का सफर तय किया था। कमल ने बल्ले से एक बार फिर स्टेटमेंट दिया है। फैंस को उम्मीद है कि कमल की कप्तानी में टीम वनडे में खिताब जीतने की कसर जो रह गई थी उसे टेस्ट यानी मल्टी डे क्रिकेट टूर्नामेंट में पूरा करेगी।