@ हल्द्वानी को पसंद आ रहा है मुंबई का बड़ा पाव….. ★अच्छा आइडिया हो और उसे सही तरीके से आगे बढ़ाया जाए तो मिलती है कामयाबी -, लेखा जोशी….. ★रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

811

@ हल्द्वानी को पसंद आ रहा है मुंबई का बड़ा पाव…..

★अच्छा आइडिया हो और उसे सही तरीके से आगे बढ़ाया जाए तो मिलती है कामयाबी -, लेखा जोशी…..

★रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

हल्द्वानी
जीवन में सफलता पाने के लिए हौसला का होना जरूरी होता है. हौसला को आप जूनून, सकारात्मक विचार, आत्मविश्वास आदि कह सकते है।

जब मन में विश्वास और हौसला होता है तो इंसान जीवन के हर मुसीबत को पार कर जाता है. हौसला हमारी शक्ति को हमेशा बढ़ाता रहता है और लक्ष्य तक पहुँचने के लिए प्रेरित करता रहता है।

एक समय था जब पहाड़ की बेटियां पहाड़ तक ही सीमित रहती थी, लेकिन अब पहाड़ की बेटियां आज हर क्षेत्र में आगे है। कहते है ना समय के हिसाब से सबकुछ बदलता है, ऐसा ही पहाड़ की बेटियों ने भी किया आज बेटियां खेल जगत से लेकर बालीवुड और सेना से लेकर बिजनेस तक में आगे बढ़ी है। अब मूलरूप से पहाड़ की रहने वाली लेखा जोशी ने मुंबई से लौटकर हल्द्वानी में स्वरोजगार की ओर कदम रखा। उनके स्वरोजगार पर पंख लग गये।

उन्होंने हल्द्वानी में “अगला स्टेशन जोशी वड़ा पाव” के नाम से एक रेस्ट्रो की शुरूआत की। फिर क्या था हल्द्वानी के युवाओं को उनका मुंबई वाला वड़ा पाव पसंद आ गया। जिसके बाद लेखा का वड़ा पाव हल्द्वानी शहर में छा गया ‌।लेखा जोशी ने “स्टार खबर” से बात करते हुए बताया कि वह मूलरूप से बागेश्वर जिले के कपकोट की निवासी है, लेकिन उनका जन्म मुंबई में हुआ है। उनके पिता मुंबई में काम करते थे, जिसके बाद उन्होंने मुंबई में ही वड़ा पाव का रेस्ट्रो वर्ष 2016 में शुरू किया। उनके काम को मुंबई में पहचान मिली तो इस बीच कोरोना ने दस्तक दी। जिसके बाद उन्होंने वर्ष 2020 में रेस्ट्रो का संचालन बंद कर दिया। ऐसी में बेटी ने अपने माता-पिता के सपनों पर पंख लगाने का मन बनाया जो सही साबित हुआ।लेखा जोशी बताती है कि बचपन से ही पहाड़ के प्रति लगाव उन्हें पहाड़ की ओर खींच लाया और वह हल्द्वानी पहुंच गई। हल्द्वानी शहर की पूरी जानकारी लेने के बाद यहां लेखा जोशी एवं उनके बिजनेस पार्टनर शिवम जोशी के साथ मिलकर नवंबर 2023 में अगला स्टेशन जोशी वड़ा पाव नाम से रेस्ट्रो शुरूआत की। फिर क्या था यहां के लोगों को अगला स्टेशन जोशी वड़ा पाव का स्वाद पसंद आ गया। लेखा जोशी और उनके बिजनेस पार्टनर शिवम जोशी ने भोटिया पड़ाव निकट पानी की टंकी के पास नंवबर 2023 में अगला स्टेशन जोशी वड़ा पाव नाम से रेस्ट्रो शुरू कर दिया। लेखा जोशी बताती है कि वड़ा पाव को आलू और बेसन से बनाया जाता है और इसके बीच में हरी मिर्च और स्पेशल चटनी रखी जाती है। उनके यहां दाबेली और वड़ा पाव लोगों की पहली पसंद बना हुआ है। इसके अलावा उनके यहां अन्य डिस भी तैयार की जाती है। वड़ा पाव के साथ यहां दाबेली, कांदा भज्जी और पाव भाजी का बेहतरीन स्वाद मिलेगा। इसके स्वाद के लिए युवा दूर-दूर से उनके पास पहुंच रहे है। लेखा जोशी ने बताती है कि पहाड़ में रहकर काम करना उनका सपना था इसी वजह से आज यह मुमकिन हो पाया है। हालांकि यह काम मुश्किल जरूर था क्योंकि हल्द्वानी को महाराष्ट्र का स्वाद पसंद आएगा, उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं था, लेकिन हल्द्वानी के लोगों से उन्हें अच्छा रिस्पांस मिला है। अगर आप भी अगला स्टेशन जोशी वड़ा पाव का स्वाद लेना चाहते है तो आप दो नहरिया सड़क पानी की टंकी के पास जाकर आनंद ले सकते है।