@. पुलिस ने किया बड़ा खुलासा ★. प्रकाश कुमार की मौत बनभूलपुरा कांड में नहीं हुई ★. गौलापार पुलिस कांस्टेबल और उसकी बीबी ने मिलकर की हत्या… रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

1174

@. पुलिस ने किया बड़ा खुलासा
★. प्रकाश कुमार की मौत बनभूलपुरा कांड में नहीं हुई

★. गौलापार पुलिस कांस्टेबल और उसकी बीबी ने मिलकर की हत्या…

रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”
हल्द्वानी
बनभूलपुरा कांड में एक खबर तेजी से आपने सुनी होगी कि बिहार से उत्तराखंड आए युवक की मौत हल्द्वानी हिंसा में हुई। नौकरी की तलाश में बिहार से उत्तराखंड आए एक युवक की हल्द्वानी हिंसा ने जान ले ली. लेकिन आज जब नैनीताल पुलिस ने खुलासा किया तो कहानी कुछ और ही निकली आपको बता दें कि हल्द्वानी आए प्रकाश कुमार का एक पुलिस कांस्टेबल की बीवी से संबंध थे, जिस कारण पुलिस कांस्टेबल की बीवी और पुलिस कांस्टेबल ने उसे मिलकर हल्द्वानी बुलाया था और प्रकाश कुमार की हत्या दी।

गौलापार में हुई थी प्रकाश कुमार की हत्या हल्द्वानी हिंसा में नहीं गौलापार में पुलिस कांस्टेबल और उसकी बीवी के साथ कुछ लोगों ने मिलकर प्रकाश कुमार की हत्या की है, पुलिस ने कांस्टेबल और उसके साथ तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और अभी फिलहाल कांस्टेबल की बीवी फरार चल रही है पुलिस उसे भी जल्द गिरफ्तार कर लेगी।नैनीताल पुलिस ने किया खुलासा

एसएसपी नैनीताल प्रहलाद नारायण मीणा ने खुलासा करते हुए बताया कि प्रकाश कुमार की मौत हल्द्वानी हिंसा में नहीं बल्कि उसकी हत्या गोली मारकर की गई थी. दरअसल प्रकाश कुमार का एक पुलिस कांस्टेबल की बीबी के साथ संबंध थे और जिस कारण उसकी बीवी और कांस्टेबल ने मिलकर उसे हल्द्वानी बुलाया और फिर गौलापार में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई ।

ये है पूरी कहानी

दरअसल जाँच के दौरान विवेचक द्वारा मृतक प्रकाश कुमार सिंह के मोबाईल आदि की जाँच की गयी एंव एसओजी व सर्विलांस की मदद ली गयी तो यह संज्ञान में आया कि उक्त मृतक युवक का सम्पर्क सितारगंज के किसी युवक से था तथा उत्तराखण्ड के अन्य नम्बर से भी वह वार्ता कर रहा था, जो दिनाँक 08.02.24 को हल्द्वानी पहुँचा। उक्त सम्पर्क में आये व्यक्तियों की जानकारी कर उनसे पूछताछ की गयी तो पता चला कि सूरज मृतक का लगभग दो ढाई साल से दोस्त था एंव मृतक प्रकाश कुमार सूरज के घर आता जाता रहता था। इसी दौरान प्रकाश कुमार सिंह के अवैध सम्बन्ध सूरज भी बहन व आरक्षी की पत्नी प्रियंका के साथ बन गये। तथा मृतक प्रकाश कुमार आरक्षी की पत्नी के साथ अवैध शारीरिक सम्बन्ध की वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल कर पैसे की मांग करने लगा। प्रियंका ने यह बात अपने पति बीरेन्द्र से छुपा कर रखी लेकिन दिनाँक 07.02.24 को मृतक द्वारा उसके पति बीरेन्द्र को फोन किया गया जिसके बाद प्रियंका द्वारा पूरी बात अपने पति को बतायी गयी, तब बीरेन्द्र द्वारा अपनी पत्नी प्रियंका एवं अपने साथी नईम खान उर्फ बबलू के साथ मिलकर प्रकाश कुमार सिंह की हत्या करने की साजिश रची। मृतक उपरोक्त को आरक्षी बीरेन्द्र ने अपनी पत्नी के माध्यम से हल्द्वानी बुलवाया। बीरेन्द्र ने प्रकाश कुमार से अपने मोबाईल से प्रियंका की वीडियो हटाने को कहा। लेकिन प्रकाश कुमार द्वारा मना करने पर आरक्षी बीरेन्द्र ने अपने साथियों के साथ मिलकर दिनांक: 08.02.2024 की शाम को प्रकाश की गोली मारकर हत्या कर दी। आज दिनाँक 15.02.24 को उपरोक्त अभियुक्त बीरेन्द्र व उसके साथियो को बाद पूछताछ जुर्म इकबाल के आधार पर धारा 302 भादवि में गिरफ्तार करते हुए अभियुक्त बीरेन्द्र की निशादेही पर हत्या में प्रयुक्त पिस्टल मय जिन्दा 04 कारतूस बरामदगी की गयी।