@. गिरफ्तारी ★. पुलिस रजिस्टर में पांच से छह हजार है दंगाई , जिनकी गिरफ्तारी है अभी बाकी ★. हल्द्वानी उप कारागार में बंदियों और कैदियों की रखने की क्षमता करीब 700 रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

134

@. गिरफ्तारी

★. पुलिस रजिस्टर में पांच से छह हजार है दंगाई , जिनकी गिरफ्तारी है अभी बाकी

★. हल्द्वानी उप कारागार में बंदियों और कैदियों की रखने की क्षमता करीब 700

रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

हल्द्वानी बनभुलपुरा
दंगाइयों की गिरफ्तारी लगातार जारी है। पुलिस रजिस्टर में पांच से छह हजार दंगाई हैं, जिनकी गिरफ्तारी अभी बाकी है और ये जेल प्रशासन के लिए चिंता की बात है।

पहले ही ओवरलोड हल्द्वानी उप कारागार इतनी बड़ी संख्या में दंगाइयों का भार उठाने के काबिल नहीं है। ऐसे में दंगाइयों को अब अन्य जेलों में ले जाना होगा। बता दें कि बनभूलपुरा दंगे में पुलिस अब तक 58 लोगों की गिरफ्तारी कर चुकी है।

अभी नामजदों की गिरफ्तारी बाकी है और दंगे का मास्टर माइंड अब्दुल मलिक भी बेटे मोईद समेत फरार है। हल्द्वानी उप कारागार में बंदियों और कैदियों की रखने की क्षमता करीब 700 की है। उस पर इस जेल में बंदियों और कैदियों की संख्या कभी भी 1500 से कम नहीं होती। इन सबके बीच जेल लाए जा रहे दंगाइयों को अलग बैरक नंबर दो में रखा जा रहा है।

इस बैरक में सिर्फ दंगे के आरोपी है। जेल में दंगाइयों की बढ़ती संख्या के साथ जेल प्रशासन की चिंता भी बढ़ रही है और इसकी वजह ही दंगाइयों को सुरक्षा के साथ अलग बैरक देना है। जेल में बैरक और सुरक्षा प्रहरी भी सीमित है, जो पहले से ही दो गुने का बोझ उठा रहे हैं।