महानगर के एक डॉक्टर से फ्रेंचाइजी के नाम पर साढ़े छः लाख की ठगी..मामला हुआ दर्ज…

107

महानगर के एक डॉक्टर से फ्रेंचाइजी के नाम पर ठगे साढ़े छः लाख..दिल्ली की फार्मा कंपनी के ख़िलाफ़ दर्ज हुआ मामला…

प्रदेश के उभरते महानगर में दिल्ली की एक फार्मा कंपनी ने  एक चिकित्सक को साढ़े 6 लाख की चपत लगा दी।अनुबंध के अनुसार जब चिकित्सक को उक्त फार्मा कंपनी ने प्रथम दो बार के बाद न ही माल भेजा और न ही डॉक्टर को उसका पारिश्रमिक दिया।और जब चिकित्सक ने अपनी जमा रकम  वापस माँगी तो कंपनी के सी.ई.ओ ने रूपये वापसी से इंकार कर दिया। उल्टा जान से मारने की धमकियां देनी शुरू कर दी।जिसकी डॉक्टर द्वारा पुलिस में शिकायत कर उक्त फार्मा कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी व धमकाने का मुकदमा दर्ज करवा दिया गया है।

कोविड काल का है यह मामला..आखिर कैसे शिकार हुए डॉ.अंशुमन जोशी…

आपको बता दें कि यह मामला कोविड काल का है।जिसमें एक फार्मा कंपनी ने फ्रेंचाइजी के लिए अपना विज्ञापन जारी किया।जिसमें कहा गया था कि कंपनी की आयुर्वेदिक दवाईयों के लिए फ्रेन्चाइजी की आवश्यकता है।जिसके अनुसार दवार्ईयों की बिक्री की सारी जिम्मेदारी कम्पनी की होगी ऐसा बताया गया था। इस विज्ञापन को देखकर कुसुमखेड़ा की जगन्नाथ कालोनी फेस 2 निवासी डा. अंशुमन जोशी ने सेलीब्रिटी फार्मा प्राईवेट लि.कंपनी के कार्यालय में संपर्क किया तो कम्पनी के सीईओ कमल आनन्द व सुपरवाईजर अमित आनन्द से बात हुई।फ्रेंचाइजी के लिए उक्त फार्मा कंपनी ने जमानत के तौर पर 5 लाख व मैन्टेंनैंस कॉस्ट के रुप में डेढ़ लाख रुपये कंपनी को देने की शर्त रखी।जिस पर डॉ.जोशी ने हामी भर दी और उन्हें रकम भुगतान कर दी। डा. जोशी ने हल्द्वानी मुखानी पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि 17 मार्च 2021 को कम्पनी द्वारा लगभग डेढ़ लाख का माल भेजा गया।इन दवाओं को बेचने के बाद डा. जोशी ने सारा पैसा कंपनी को भेज दिया।लेकिन जब डॉ.जोशी ने कंपनी से बार-बार अपने पारिश्रमिक की मांग की तो कम्पनी के सी.ई.ओ कमल आनंद ने पारिश्रमिक देने में पहले तो आनाकानी की फिर मुकर गए।

पुलिस की जाँच के बाद ही सामने आएगा मामले का पूरा सच…

पुलिस ने डा. अंशुमन जोशी की तहरीर पर कंपनी के सी.ई.ओ कमल आनंद और सुपरवाइजर अमित आनंद के खिलाफ धोखाधड़ी व जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।हल्द्वानी पुलिस अब मामले की तफ्तीश में जुट गई है।पुलिस की जाँच के बाद ही मामले का पूरा सच सामने आएगा।

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।