कार्रवाई…..डीएम नैनीताल की बड़ी कार्रवाई….सरकारी जमीन में बने होटलों के जांच के आदेश….2 टीमों से 15 दिन में मांगी रिपोर्ट

200

नैनीताल – रामनगर में रिजॉर्ट और होटलों द्वारा सरकारी भूमि मे कब्जा कर होटलो का संचालन पर प्रशासन का डंडा चलने जा रहा है। डीएम नैनीताल ने ऐसे होटलों का संज्ञान लेते हुए दो जांच टीमों का गठन किया है। पहली जांच टीम मे एसडीएम रामनगर, तहसीलदार कालाढूंगी, सर्वे नायब तहसीलदार हल्द्वानी, उप जिलाधिकारी रामनगर द्वारा एक नामित कानूनगो,दो लेखपाल नियुक्त किए गए हैं जो रामनगर क्षेत्र, ढिकुली, क्यारी एव छोई की जांच की जाएगी। एसकके साथ ही दूसरी टीम में उप जिलाधिकारी कालाढूंगी, तहसीलदार रामनगर, सर्वे नायब तहसीलदार रामनगर, उप जिलाधिकारी कालाढूंगी द्वारा नामित एक कानूनगो एवं दो लेखपालों को नियुक्त किए गये हैं जिनके द्वारा सावल्दे, कानिया एव ढेलाके होटलों द्वारा सरकारी जमीन पर कब्जे की जांच करेगी।
डीएम नैनीताल ने बताया कि दोनों समिति दिये गए कार्यक्षेत्रानुसार समस्त रिजॉर्ट्स एव होटलों निर्मित /निर्माणाधीन का निरीक्षण करते हुए रिजॉर्ट्स एवं होटलों की निजी भूमि और,यदि सरकारी भूमि पर उनके द्वारा कब्जा किया गया है, के संबंध में स्पष्ट आख्या देगी।एसकके साथ ही जिन रिजॉर्ट्स एव होटलों के द्वारा सरकारी भूमि में कब्जा किया गया है,उनके विरुद्ध अग्रिम कार्यवाही की संस्तुति जिला कार्यालय को 15 दिवस के भीतर उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिए गए।
डीएम ने निर्देश दिए हैं कि रामनगर के आसपास प्रत्येक रिजॉर्टस होटल निर्मित निर्माणाधीन का निरीक्षण भली-भांति करे ताकि कोई भी अवशेष ना रहे।