प्रकाश पर्व पर नैनीताल के सिंघ सभा गुरुद्वारे में मनाई गई सिख समुदाय के प्रथम गुरु,गुरुनानक देव जी की जयंती…

118

प्रकाश पर्व पर नैनीताल के सिंघ सभा गुरुद्वारे में हुए विशिष्ट आयोजन..हर्षोल्लास से मनाई गई प्रथम गुरु की जयंती…

हर साल कार्तिक पूर्णिमा के दिन गुरु नानक जयंती मनाई जाती है। इस बार कार्तिक पूर्णिमा को आज पूरे भारत वर्ष में गुरूपर्ब बड़े हर्षोल्लास से मनाया गया। गुरु नानक देव जी सिख समुदाय के पहले गुरु व पंथ के संस्थापक थे। इसलिए यह दिन सिख समुदाय के लोगों के लिए विशेष महत्‍व रखता है। इस दिन को सिख समुदाय के लोग प्रकाश पर्व या गुरूपर्ब के रूप में मनाते हैं।

गुरूपर्ब पर झील नगरी नैनीताल में भी आज दिनभर चला शबद-कीर्तन और लंगर..हुए विशिष्ट आयोजन…

सरोवर नगरी नैनीताल में में गुरु नानक देव जी की 553वीं जयंती बड़े धूमधाम से मनाई गई।नैनीताल के गुरु सिंघ सभा गुरुद्वारे को भव्य रूप से सजाया गया है। आज सुबह से ही गुरुद्वारे में श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी रही। शबद कीर्तन और अखंड भोग के साथ लंगर में भी हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण कर गुरु का आशीर्वाद प्राप्त किया।इसी क्रम में पंजाबी महासभा नैनीताल की टीम द्वारा भी गुरू सिंह सभा गुरुद्वारा में ल॑गर में सेवा की गयी। जिसमें सचिव प्रेम कुमार शर्मा, विक्रम स्याल,रमन जीत सिंह धर्मेन्द्र कुमार शर्मा,सतीश गुप्ता, पवन कुमार उपाध्याय, सुमित खन्ना, प्रदीप कुमार जेठी, राजीव गुप्ता, सरदार रविन्दर बीर सिंह, सदीप सिंह भुल्लर ने सेवा में सहयोग किया।