सरोवर नगरी में जैसे ही पर्यटक सीज़न चरम पर आने लगता है वैसे ही यहाँ आ धमकते हैं अवैध अतिक्रमणकारी.. प्रशासन नही निकाला पाता कोई स्थायी हल…

180

सरोवर नगरी में बाहरी अवैध अतिक्रमणकारियों को न हटाये जाने को लेकर स्थानीय व्यापारियों में रोष..सचल दस्ता बनाये जाने की जरूरत…

सरोवर नगरी नैनीताल में लोकसभा चुनावी आचार संहिता लागू होने से पूर्व जिला प्रशासन फड़ व्यवसायियों व बाजारों पर किये अतिक्रमण किये स्थानीय व्यापारियों पर बहुत सख्ती बरत रहा था।जिसके अंतर्गत सड़कों,फुटपाथों,पंत पार्क,राम सेवक सभा परिसर तथा बाजारों पर अतिक्रमण करने वाले व्यापारियों को अतिक्रमित स्थल से तुरंत कब्जे हटाने की चेतावनी गई थी।किंतु राज्य में आदर्श आचार संहिता क्या लगी,सभी अतिक्रमण कारियों को जैसे राहत मिल गई।जबकि लोकसभा चुनाव निपटने के बाद देहरादून, हल्द्वानी, लालकुआं सहित प्रदेश के अनेक स्थानों पर पुनः अतिक्रमण के ख़िलाफ़ कार्यवाही शुरू कर दी गई।आपको बता दें कि विगत दिनों झील नगरी नैनीताल में अवैध निर्माण अतिक्रमण जाँचने की नीयत से जिलाधिकारी नैनीताल वंदना सिंह ने 15 समितियाँ बना कर रिपोर्ट लेने के आदेश किये थे परंतु सड़कों,फुटपाथों, पंत पार्क आदि स्थानों को एक बार फिर से नज़रंदाज़ किया जा रहा है।बाजारों में व्यापारी पुनः कई फिट आगे तक सड़कों पर क़ाबिज़ हो चुके हैं।नालियों के ऊपर भी भारी निर्माण किया गया है।बड़ा बाजार में तो नालियों के ऊपर एक बैंक ने स्प्लिट ए.सी की यूनिट तक लगा दी गई हैं।जिसका कोई सुधलेवा नही है।

बाहरी लोगों द्वारा अतिक्रमण किये जाने वाली जगहों पर तैनात किए जाएंगे पी.आर.डी जवान..ताकि अतिक्रमण पर लगे लगाम..- अतुल भंडारी अधिशाषी अधिकारी नगरपालिका नैनीताल…

नैनीताल नगरपालिका के नवनियुक्त अधिशाषी अधिकारी अतुल भंडारी ने स्टार ख़बर को बताया कि सभी तरह के अतिक्रमण कारियों की अब खैर नही है।उन्होंने बताया कि कल भी फुटपाथ पर क़ाबिज़ अवैध अतिक्रमण कारियों के चालान किये गए थे।बड़ा बाजार में भी अतिक्रमण की जानकारी मिल रही है जिसकी लगातार चेंकिग करवाई जाएगी।और पी.आर.डी जवानों को निगहबानी के लिए नियुक्त किया जाएगा।जिससे बाज़ार भी अतिक्रमण मुक्त हो सकेंगे।बाजारों,मॉल रोड,पंत पार्क से एक दिन अवैध फुटपाथ व्यवसायियों को हटाया जाता है तो वो फिर से कहीं और क़ाबिज़ हो जाते हैं।भविष्य में ऐसे अवैध फड़ व्यावसायियों पर अधिक सख्ती की जाएगी।