नैनीताल की अंदेखी क्यों सरकार से करेंगे इस मामले में की मांग..होटल एसोसिएशन की कार्यकारणी घोषित.. दिग्विजय बिष्ट अध्यक्ष तो महासचिव बने वेद साह.. उपाध्यक्ष आलोक शाह,कोषाध्यक्ष सीपी भट्ट, संयुक्त सचिव स्नेह छाबड़ा, पीआरओ की रुचिर साह को जिम्मेदारी

82

नैनीताल – होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन नैनीताल की नव नियुक्त अध्यक्ष ने कार्यकारणी की घोषणा कर दी गई है। बोट हाउस कल्ब में अध्यक्ष दिग्विजय बिष्ट ने उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी आलोक शाह को दी है तो वहीं महासचिव वेद साह बने रहेंगे इसके साथ ही कोषाध्यक्ष पर पर सीपी भट्ट, संयुक्त सचिव स्नेह छाबड़ा, पीआरओ रुचिर साह को नई जिम्मेदारी दी गई है। इस दौरान नव नियुक्त कार्यकारणी ने भरोषा दिया है कि वो होटल एंड रेस्टोरेंट के हितों के लिये प्रयास करते रहेंगे और सरकार से मिलकर शहर और पर्यटक के बेहतर के लिये काम करेंगे।

ये रहेंगी एसोसिएशन की प्राथमिक्ताएं…

मंगलवार को मल्लीताल बोट हाउस क्लब में पत्रकारों से बातचीत में नव नियुक्त अध्यक्ष दिग्विजय सिंह बिष्ट ने कहा कि नैनीताल में व्यवस्थाओं की कमी के चलते क्वालिटी टूरिस्ट की कमी आने लगी है और सड़कों की खराब हालातों ने पर्यटकों का नैनीताल से मोह भंग हो रहा है। नैनीताल होटल एसोसिएशन ने कहा कि नैनीताल के साथ सरकार भी सौतेला व्यवहार कर रही है अध्यक्ष दिग्विजय बिष्ट ने कहा कि सरकार ने मसूरी को पार्किंग के साथ रोपवे और सड़क चौड़ीकरण तोहफा दिया है लेकिन नैनीताल में टूरिस्टों को शहर से बाहर ही रोका जा रहा है। होटल एसोसिएशन ने कहा है कि नैनीताल में पाँकिट पार्किंग का निर्माण हो और रुसी बाईपास पर में इंटरनेट को बेहतर करने के साथ अच्छी व्यवस्थाएं सरकार करें ताकि पर्यटकों को एक बेहतर संदेश भी जा सके। इधर मालरोड़ समेत अन्य की चिंता व्यक्त करते हुए होटल एसोसिएशन ने सवाल भी उठाए हैं कि 4 सालों बाद भी मालरोड़ ट्रिटमेंट का काम नहीं हो सका और सड़कों की हालत भई खराब है अगर ये सड़क टूटेगी तो आने वाले दिनों में टूरिस्ट नैनीताल नहीं आयेगा..अध्यक्ष होटल एसोसिएशन ने कहा कि उत्तराखण्ड सरकार और भारत सरकार के पर्यटक मंत्री से बातचीत कर कई विषयों को उठाया जायेगा और नैनीताल में नीति तैयार करने की मांग भी होगी। एसोसिएशन ने कहा कि शहर में स्थानीय लोगों की लगभग 6 हजार से ज्यादा वाहन हैं। जो कहाँ पार्क होते हैं किसी को पता नहीं है। कहा कि जिलाधिकारी ने शहर में सौन्दर्यकरण का कार्य शुरू करना पर्यटन के लिए बहुत अच्छी पहल है। कहा कि इसके साथ साथ शहर की टूटी सड़कें व झील की क्षतिग्रस्त दीवारों की मरम्मत भी बेहद जरूरी है।

  1. बिना पंजीकरण के कई होटल व गैस्ट हाउस कर रहे काम

होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह बिष्ट ने कहा कि शहर में वर्तमान में 118 रजिस्ट्रेट होटल एसोसिएशन में शामिल हैं। वहीं पर्यटन में 227 होटल व गैस्ट हाऊस व 60 होम स्टे पंजीकृत हैं। इसके अलावा भी अनगिनत होटल व गैस्ट हाउस पंजीकृत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि वह अपनी एसोसिएशन में अन्य होटल व गैस्ट हाउसों को जोड़ेंगे लेकिन उसके लिए उनको पंजीकृत होना चाहिए। अध्यक्ष होटल एसोसिएशन ने कहा कि सरकार को चाहिये की जो होटल पंजीकृत नहीं है उनको भी पंजीकृत कराने क योजना तैयार करें ताकि सरकार को भी राजस्व मिल सके।