बधाई नहीं दोगे….. पहाड़ की इस बेटी के कामयाबी पर…पिता ने दुश्मनों के छुड़ाए छक्के बेटी करेगी अब बाउंड्री पार..

142

अल्मोड़ा से 18 किलोमीटर दूर धौल छीना में सुपर गांव की पहली महिला क्रिकेटर रितिका सुप्याल ने किया अपने गांव का नाम रोशन रितिक का चयन उत्तराखंड की टीम के लिए हुआ है। पिता कुमाऊं रेजिमेंट से नायब के पद में थे मेडिकली फिट नहीं होने के कारण समय से पहले उन्हें सेवानिवृत्त होना पड़ा पिता के खराब स्वास्थ्य होने व मां के असमय निधन होने के बावजूद विषम परिस्थितियों में भी रितिका ने 12वीं तक की पढ़ाई आर्मी स्कूल अल्मोड़ा से की इसके बाद रितिका काशीपुर मैं पिछले कुछ वर्षों से हाइलैंडर क्रिकेट एकेडमी में कोचिंग ले रही थी ।इसी दौरान बीसीसीआई कि उत्तराखंड सीनियर क्रिकेट में बतौर ऑलराउंडर रितिका का चयन किया गया । नैनीताल कुर्मांचल बैंक में कार्यरत चाचा किशन सिंह सुप्याल का कहना है रितिका बचपन से ही पढ़ाई के साथ साथ खेलों में भी बहुत रूचि थी। क्रिकेट कोच कमल भट्ट के साथ-साथ परिवार व स्थानीय लोगों ने खुशी जाहिर की है ।विधायक मनोज तिवारी बॉल ब्लाक प्रमुख खुशबू पांडे आदि लोगों ने उन्हें बधाई दी।