अधिकारी के ज़िद के आगे शहर परेशान.. पर्यटक से लेकर आम शहरी सब दे रहे हैं अब गाली…पत्थरों से निर्मित इन निर्माण के खिलाफ हाई कोर्ट जाने की तैयारी… कटाक्ष.. तू जाम में टोल कटा में दारू लेकर आया

496

नैनीताल – नैनीताल में जिला प्रशासन का एक निर्णय और अधिकारियों की जिद शहर के लोगों पर भारी पड़ी है। ठीक सीजन के दौरान चुंगी शिफ्ट करने से पूरे शहर में जाम की स्थिति बन रही है तो भवाली रोड के साथ हल्द्वानी रोड तक लंबा जाम लगने लगा है। जिससे हर कोई परेशान हैं। हालात ये है कि बाइक और रिक्शा भी इस जाम में फंस रहे हैं, वाहन तो छोड़ो चुंगी वाले क्षेत्र में पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। चुंगी शिफ्ट से नैनीताल शहर को हो रही परेशानियों से जनता त्रस्त है जिसके बाद अब स्थानीय लोग हाई कोर्ट की शरण मे जाने की तैयारी में हैं। वहीं जिला प्रशासन को मिली शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं कि गयी है। नैनीताल एसडीएम प्रतीक जैन ने कहा कि शिकायत सुनी हैं कि इस तरह की परेशानी हो रही है लेकिन जाम को कंट्रोल करने के लिए ही चुंगी शिफ्ट की गई है,,एसडीएम ने कहा किअभि पालिका अधिकारियों के साथ यातायात पुलिस के साथ मुआयना किया जाएगा और राहत जरूर मिलेगी।

शिफ्टिंग की क्यों थी जरूरत..पत्थरों से बनी चुंगी के खिलाफ कोर्ट जाने की तैयारी…

दरअसल चुंगी दर्शन घर पार्क के पास थी जहां पर सड़क काफी चौड़ी है। लेकिन नैनीताल जिला प्रसाशन ने चुंगी को दो पोस्ट बनाकर कम चौड़ी वाले स्थान पर शिफ्ट कर दिया जिससे जाम की स्थिति बन गयी है,पहले अगर कोई चुंगी नहीं देता था तो वो वापस अपनी गाड़ी वहीं से टर्न कर लेता था लेकिन इस स्थान पर गाड़ी मोड़ने की जगह भी नहीं है जिससे भी जाम की स्थिति बन रही है। इसके साथ ही चुंगी से पहले ही रिक्शा बाइक निकल जाते थे जिससे लोग जाम में नहीं फंसते थे लेकिन अब हर व्यक्ति को जाम में रहने को मजबूर होना पड़ रहा है, पैदल आने वाले भी चुंगी से नहीं निकल पा रहे हैं तो कुछ वाहन अपर मालरोड से मल्लीताल की तरफ जाने लगे हैं। चुंगी शिफ्टिंग के हुई स्थानीय लोगों को परेशानियों के बाद अब हाई कोर्ट में इन चुंगी निर्माण के खिलाफ याचिका दाखिल करने की तैयारी है। नैनीताल आयरपाटा सभासद मनोज जगाती ने कहा कि कुछ अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे हैं जिससे हर शहरी परेशान हो रहा है और हाई कोर्ट ने शहर से बाहर हनुमानगढ़ी और भवाली रोड़ पर चुंगी लगाने को कहा पर अपनी कमाई के लिए पत्थरों से कम स्पेश वाले स्थान पर चुंगी बना दी है जिसके खिलाफ वो हाई कोर्ट में याचिका दाखिल करेंगे जिसकी पूरी तैयारी हो गयी है।