उत्तरप्रदेश की प्रतिष्ठित तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में कल्चरल इवेंट- नवरंग 3.0 का हुआ आयोजन..स्वागत में अतिथियों को दिए पवित्र तुलसी के पौधे…

106

उत्तरप्रदेश की प्रतिष्ठित तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में कल्चरल इवेंट- नवरंग 3.0 का हुआ आयोजन..शानदार आगाज़ ने सभी का मन मोहा…

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में फैकल्टी ऑफ एजुकेशन की ओर से कल्चरल इवेंट- नवरंग 3.0 आयोजित किया गया।मुरादाबाद उत्तरप्रदेश की फर्स्ट लेडी श्रीमती वीना जैन इस कार्यक्रम की बतौर मुख्य अतिथि रहीं।इस कल्चर इवेंट में श्रीमती ऋचा जैन की भी रही विशिष्ट मौजूदगी रही साथ ही फैकल्टी ऑफ एजुकेशन की सीनियर फैकल्टी डॉ. कल्पना जैन,ऋचा जैन,डीन स्टुडेंट वेलफेयर प्रो. एमपी सिंह ने सभी अतिथियों को तुलसी के पौधे उपहार स्वरूप दिए गए।कार्यक्रम में सर्वप्रथम बी.एल.एड की छात्रा वैष्णवी ने गणेश वंदना प्रस्तुत की। इस कल्चरल इवेंट- नवरंग 3.0 का संचालन फैकल्टी डॉ. नम्रता जैन ने किया।फैकल्टी ऑफ एजुकेकशन के स्टुडेंट्स ने एक से बढ़कर एक मनमोहक प्रस्तुतियां देकर प्रोग्राम को अविस्मरणीय बना दिया। बी.एल.एड की टीम सर्वोच्च अंक प्राप्त करके अव्वल रही। नवरंग- 3.0 में बी.एस.सी-बी.एड के छात्र-छात्राओं ने ‘अनेकता में एकता’ पर अपना नृत्य प्रस्तुत किया। बी.एल.एड के छात्र-छात्राओं ने ‘ऩए भारत का विकास’, जबकि बी.एड.एम.एड के छात्र-छात्राओं ने ‘नारी शक्ति’ एवम् बी.ए-बी.एड के स्टुडेंट्स ने ‘अतुल्य भारत’ की प्रस्तुति पर सभी का मन मोह लिया।

अतिथियों को तुलसी के पौधे भेंट करना है अच्छी परंपरा..व पर्यावरण संरक्षण के लिए बड़ा संदेश…

उक्त कार्यक्रम में कॉलेज के डीन प्रो. हरबंश दीक्षित, डीन स्टुडेंट्स वेलफेयर प्रो. एमपी सिंह, विल्सोनिया कॉलेज की वाइस प्रिंसिपल श्रीमती ज्योतिका सिंह, फैकल्टी ऑफ एजुकेशन की प्राचार्या प्रो. रश्मि मेहरोत्रा, नर्सिंग कॉलेज की डीन प्रो. एस.पी सुभाषिनी, मुख्य लाइब्रेरियन डॉ. विनीता जैन, लॉ कॉलेज के प्राचार्य प्रो.एस.के सिंह, ज्वाइंट रजिस्ट्रार, टीएमयू डॉ. अलका अग्रवाल, श्रीमती मोहिनी गर्ग, श्रीमती गुरमीत कौर, आदि अनेक विशिष्ट जनों में मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित करके नवरंग का शुभारम्भ किया। स्टुडेंट्स ने अपनी कला शैली से सभी अतिथियों और उपस्थित जनों का दिल जीत लिया। अंत में प्रो. रश्मि मेहरोत्रा ने सभी अतिथियों और प्रतिभागियों का आभार व्यक्त कर धन्यवाद ज्ञापित किया।