आज़ादी के “अमृत महोत्सव”के प्रचार-प्रसार पर करोड़ों रुपया खर्च करेगी सरकार पर जनसुविधाओं के लिए नही है कोई जिम्मेदारी…

132

सत्तासीन मना रहे है आज़ादी का “अमृत महोत्सव” पर गाँवों में अब तक नही है..सड़क,पेयजल व स्वास्थ्य सेवाएं…

नैनीताल में मुख्य राष्ट्रीय राजमार्ग 87 में ज्योलिकोट भुजिया घाट से लगभग 5 किलोमीटर दूर पैदल मार्ग में भल्यूटी गांव बसा है।जहाँ देश आज़ादी की 75 वी सालगिरह “अमृत महोत्सव” धूमधाम से मना रहा है।वहीँ नैनीताल जिला मुख्यालय से बमुश्किल 25 किलोमीटर दूर इस गाँव (भल्यूटी) में अब तक सड़क नहीं होने के कारण ढेरों समस्याएं हैं। बुधवार शाम यहां एक गर्भवती महिला को अचानक प्रसव पीड़ा होने के बाद ग्रामीण उसे कुर्सी में बांधकर सड़क तक ला रहे थे। कि अचानक ही उस महिला का स्वास्थ्य ज्यादा खराब होने लगा व उक्त महिला ने जंगल के रास्ते में ही एक बच्चे को जन्म दे दिया।जिसके बाद महिला को एम्बुलेंस के माध्यम से अस्पताल तक पहुचाया गया।हालांकि जच्चा व बच्चा दोनों स्वस्थ हैं पर ईलाज के आभाव में अनेकों ग्रामीण अपनी जान से भी हाथ धो बैठते हैं।

स्वास्थ्य सुविधाएं तो दूर सड़क तक नही पहुँची है गाँव में…

अफ़सोस.. आज भी कई ऐसे ग्रामीण क्षेत्र हैं।जहाँ स्वास्थ्य सुविधाओं व सड़क दोनों का ही आभाव है जिसके चलते दूरदराज गाँव-देहातों से ग्रामीण मरीजों को कुर्सी या चारपाई के सहारे मुख्य मार्ग तक लाना पड़ता है।
आपको बता दें कि लगभग 22 बरस के हो चुके उत्तराखंड में चुनावों के समय पहाड़ी क्षेत्रों में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं,सड़क,स्वच्छ पीने का पानी आदि मूलभूत सुविधाओं को दिए जाने का वादा तो किया जाता है पर सभी राजनीतिक दल सत्तासीन होते ही अपने निजी उपक्रम साधने लगते हैं।

ग्रामीणों में सरकार के प्रति गहरा रोष…

इस क्षेत्र की पंचायत सदस्य मुन्नी जीना, कुंदन सिंह जीना ने बताया कि सरकार को लगातार प्रत्यावेदन दिए जाने के बाद भी संबंध में कोई कार्यवाही अबतक नही हुई। पूर्व जिला पंचायत सदस्य संजय शाह ने कहा कि गांव में ऐसा तो आए दिन होता रहता है। कई लोगों को समय पर उपचार नहीं मिलने से उनकी मौत भी हो जाती है।क्षेत्र के ग्रामीणों ने जल्द ही क्षेत्र में स्वास्थ्य केंद्र खोलने की मांग की है।और कहा कि उत्तराखंड के अलग प्रदेश बनने के बाद भी इस गाँव के दिन नही बहुरे।उन्हें वर्तमान सत्ता से आस है कि कभी उनके गांव तक भी सड़क,शुद्ध पेयजल व स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हो पायेंगीं।