उत्तराखंड की बेटी की नृशंस हत्या मामले में हुई अहम गिरफ्तारी..खुल सकते हैं हत्या के राज…

448

उत्तराखंड की बेटी की नृशंस हत्या मामले में हुई अहम गिरफ्तारी..खुलेंगे हत्या के राज…

भाजपा नेता के पुत्र द्वारा की गई अंकिता भंडारी हत्या कांड में एस.आई.टी ने एक बड़ी गिरफ्तारी की है।आपको बता दें कि ऋषिकेश के निकट स्थित वंन्नत्रा रिसोर्ट में रिशेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी पर रिसोर्ट मालिक दबंगों ने पहले अपने विशेष अतिथियों को खुश करने का दबाव बनाया और सफलता न मिलते देख कर उसे जबरन चीला बैराज ले जाकर उसे जल समाधि दे दी गई। मामला खुलने पर जब नेता पुत्र पुलकित आर्या को संबंध में रिसोर्ट स्टाफ सहित गिरफ्तार किया गया तो मामले का घिनौना सच सामने आने लगा।

स्थानीय ग्रामीणों ने राजस्व उपनिरीक्षक (पटवारी)वैभव कुमार के भाजपा नेता पुत्र के साथ बताए पुराने संबंध…

स्थानीय निवासियों ने वंन्नत्रा रिसोर्ट के मालिकों के साथ राजस्व उपनिरीक्षक वैभव कुमार के नज़दीकी संबंध बताए थे।और वैभव की तुरंत गिरफ्तारी की माँग भी की थी।मिल रही जानकारी के अनुसार यमकेश्वर तहसील के उदयपुर पल्ला-2 पट्टी के राजस्व उपनिरीक्षक पटवारी वैभव कुमार को मामले में संदिग्ध भूमिका मिलने पर देर रात एस.आई.टी ने गिरफ्तार किया है।ऐसा माना जाता है कि वैभव को मामले की पूरी जानकारी थी।इसीलिए वह अंकिता के पिता की रिपोर्ट लिखने से कतराता रहा और 20 सितंबर को छुट्टी पर चला गया।
सूत्रों का कहना है कि आई.पी.एस पी.रेणुका देवी की अगुवाई में एस.आई.टी जल्द कुछ और बड़ी गिरफ्तारियां कर सकती है।

राजस्व उपनिरीक्षक पटवारी वैभव कुमार के बयानों से भी लग रहा मामला संदिग्ध…

राजस्व उपनिरीक्षक पटवारी वैभव कुमार ने एस.आई.टी को बताया कि 19 सितंबर को रात 2 बजे पुलकित आर्या ने अंकिता के रिसोर्ट से गायब होने की सूचना दी थी।पर घटना होने के 24 घंटे से पूर्व एफ.आई.आर दर्ज करना संभव नही होता।और 20 सितंबर को तहसीलदार से छुट्टी स्वीकृत होने के कारण मुझे जाना पड़ा।कुलमिलाकर पटवारी ने संबंध में जाँच तो दूर प्रथम सूचना रिपोर्ट तक दर्ज नही की व छुट्टी चला गया।