… तो अब बिना पंजीकरण के होम स्टे और होटल संचालकों के खिलाफ होगी कार्रवाई

27

जल्द ही बिना पंजीकरण होम स्टे और होटल संचालकों के खिलाफ कार्रवाई होने जा रही है। जिला प्रशासन ने इस बार सख्त रुख अपनाया है। प्रशासन ने यह भी चेतावनी दी है कि अगर बिना पंजीकरण के होटल और होम स्टे का संचालन करता कोई भी संचालक पाया गया तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। सूत्रों के अनुसार पंजीकृत होटल से भी अधिक बिना पंजीकृत होटल और होम स्टे का खुलेआम संचालन किया जा रहा है।
बिना पंजीकरण कराए जिन कॉटेजों में होम स्टे संचालित किए जा रहे हैं, उन्हें सील कर संचालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। यह बात धारी के एसडीएम योगेश सिंह मेहरा ने कही। आपको बता दें एसडीएम मेहरा ने मुक्तेश्वर, धानाचूली, धारी और रामगढ़ क्षेत्र के होटल और होम स्टे संचालकों के साथ बैठक की है। इस दौरान एसडीएम योगेश सिंह मेहरा मुक्तेश्वर, धारी, धानाचूली और रामगढ़ क्षेत्र में होटल और होम स्टे संचालकों के साथ बैठक कर कहा कि नियमों का उल्लघंन करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। साथ ही बैठक में सहमति बनी कि होटल और होम स्टे का कूड़ा वाहन से निस्तारित किया जाएगा। वाहन से कूड़ा निस्तारित करने के लिए होटल और होम स्टे संचालकों से निर्धारित शुल्क भी लिया जाएगा। क्षेत्र को प्लास्टिक मुक्त करने के लिए संचालकों को निर्देश दिए गए हैं कि अपने प्रतिष्ठानों पर पॉलीथिन को पूरी तरह प्रतिबंधित करें।