अगर आप दोपहिया वाहन से सरोवर नगरी आ रहे हैं तो हो जाएं सावधान..? जा सकती है जान…

502

उत्तराखंड के पर्यटन स्थलों में देर रात दोपहिया वाहनों से प्रवेश हो सकता है गंभीर..खुले में विचरण कर रहे हैं बाघ व लेपर्ड्स…

अगर आप उत्तराखंड के पर्वतीय हिल स्टेशनोँ की सैर पर दोपहिया वाहन से आ रहे हैं तो हो जाएं सावधान..!
सरोवर नगरी नैनीताल मुख्यालय के बिल्कुल निकट नैना गाँव में कल देर रात लेपर्ड मुख्य मार्ग पर विचरण करते हुए नज़र आया।और देखते ही देखते कार सवारों के सामने ही लेपर्ड ने गाय का शिकार कर डाला।केलाखान,बारह पत्थर,आर्मी कैंट,स्नो व्यू से लेकर गवर्नर हाउस,डी.एस.बी कॉलेज रोड पर भी आजकल इन लेपर्ड्स का विचरण आम बात हो गयी है।

डॉ. सुष्मित ह्यांकी व डॉ.अंकित तिवारी के सामने ही लेपर्ड ने गाय को मार डाला..रात के समय दो पहिया वाहनों से न करें सफ़र…

आपको बता दें कि नैनीताल निवासी डॉ. सुष्मित ह्यांकी अपने मित्र डॉ.अंकित तिवारी के साथ कल देर रात वापस अपने घर लौट रहे थे।तभी उन्हें सड़क पर एक बाघ विचरण करते हुए दिखाई दिया।उन्होंने अपने मोबाइल से वीडियो बनाना शुरू कर दिया।पहले तो बाघ सड़क किनारे छिपने लगा पर वाहन रुक जाने से वह बेख़ौफ़ एक गाय पर झपट पड़ा।और उसे पलों में ही धराशायी कर दिया।राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुई इस घटना से स्थानीय लोगों में बहुत ज्यादा दहशत का माहौल हैं। ज्ञात रहे कि झील नगरी के चारों तरफ़ आजकल लेपर्ड व बाघ के दीदार होना कोई नई बात नही है।इसीलिए आप जब भी दोपहिया वाहन से यहाँ आये तो ध्यान रखें कि अंधेरा होने पर मुख्य मार्गों पर जंगली जानवरों का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है।

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।