कार्य बहिष्कार पर गए गावँ के अधिकार…रुका गावँ का विकास सरकार को दिया था पहले ही अल्टीमेटम….मांग पूरी करने का सरकार पर डाला दबाव..

386

भीमताल – उत्तराखंड सहायक विकास अधिकारी एसोसिएशन तथा प्रांतिय मिनिस्ट्रियल संघ के आह्वान पर ग्राम पंचायत विकास अधिकारी एवम ग्राम विकास अधिकारी के फंक्शन मर्जर के विरोध में सहायक जिला पंचायत राज अधिकारी, सहायक विकास अधिकारी अधिकारी पंचायत,पंचायत उघोग निरीक्षक तथा मिनिस्ट्रियल कर्मचारियों द्वारा आज दूसरे दिन भी कार्य बहिष्कार किया गया।
धरना कार्यक्रम में शासन द्वारा पंचायती राज को लगातार एक रेखीय विभाग के दबाव में कमजोर करने की करवाई की कड़ी शब्दों में निंदा की गई तथा अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त द्वारा उक्त आदेश के स्थगित किए जाने का स्वागत करते हुए इसको पूर्ण रूप से निरस्त करने की मांग की गई। धरना स्थल पर प्रान्तिय कार्यकारिणी उपाध्यक्ष असलम अली ने कहा कि एक तरफ जहां केंद्र सरकार पंचायतों के सशक्तिकरण हेतु लगातार कार्य कर रही है वही प्रदेश में पंचायती राज की अवधारणा को समाप्त करने की एक चरणबद्ध साजिश चुनिंदा अधिकारियों एवं एक रेखीय विभाग द्वारा जा रही है। जिसको किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जाएगा कार्यकारिणी के अध्यक्ष विनोद कुमार भट्ट ने कहा कि विभाग का नया ढांचा स्वीकृत कर क्षेत्र पंचायत में खंड पंचायत राज अधिकारी का पद सृजित किया जाये जिससे त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था की अवधारणा को मजबूती प्रदान होगी। धरना कार्यक्रम में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के पूर्व प्रांतीय उपाध्यक्ष पी के शर्मा ने आंदोलन का समर्थन करते हुए कर्मचारियों की मांग को न्यायोचित बताया । उन्होंने कहा कि यदि सरकार द्वारा उक्त शासनादेश को यथाशीघ्र पूर्ण रूप से निरस्त नहीं किया गया तो पंचायती राज विभाग के पूर्व सेवानिवृत्त कर्मचारी भी आंदोलन में अपनी पूर्ण भागीदारी कर आंदोलन को और व्यापक रूप प्रदान करेंगे
आज धरना स्थल पर विनोद कुमार भट्ट जिला अध्यक्ष, प्रकाश चंद्र कांडपाल महामंत्री, राजेंद्र प्रसाद टम्टा, गोपाल वर्मा, संजय देव सत्येन्द्र रावत, प्रकाश चंद, रश्मि बाला अर्जुन सिंह तथा अशोक जोशी सहित कई लोगों ने प्रतिभाग किया।

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।