स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर ओखलकांडा के ग्रामीणों का प्रदर्शन…सरकार सिस्टम को दी आंदोलन की चेतावनी…ग्रामीणों ने विधायक मंत्री से कहा एम्स नहीं लेकिन दवा देकर ईलाज करने वाले तो दो…

541

रिपोर्ट – चन्दन सिंह बिष्ट स्टार खबर भीमताल ओखलकांडा

भीमताल/ओखलकांडा –
ओखलकांडा में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को ठीक किए जाने की मांग को लेकर मंगलवार को राज्य आदोलनकारी हरीश पनेरु और पूर्व छात्र नेता दिपक मेवाड़ी ने डालकन्या अस्पताल परिसर में सांकेतिक धरना दिया। उनके साथ क्षेत्र के ग्रामीण भी धरने पर बैठे। इस दौरान पूर्व छात्र नेता दीपक मेवाड़ी ने कहा कि पहाड़ों की स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह बदहाल हो चुकी हैं। शासन प्रशासन की लगातार अनदेखी से लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इस दौरान लोगों ने बदहाल पडे़ अस्पताल और सृजित चिकित्सकों के पदों को भरने, अस्पताल में डॉक्टर और अन्य पदों की नियुक्ति करने, हल्द्वानी सुशीला तिवारी अस्पताल को एम्स की तर्ज पर विकसित करने की मांग की।

इस दौरान पूरे दर्जा राज्यमंत्री आंदोलनकारी हरीश पनेरु ने कहा की सरकार ओखल कांडा और धारी रामगढ़ की समस्याओं को गंभीरता से हल नहीं कर रही है जिससे ग्रामीणों को खासी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।धरना प्रदर्शन में हरीश पनेरु प्रधान कुंडल हेमा देवी पूर्व प्रधान हरीश मटियाली ,राकेश गोनिया पूर्व सरपंच कमल चंद्र ,पूरन चंद पनेरु नव युवक मंगल दल के अध्यक्ष चंदन पनेरु डिग्री कॉलेज पतलोट कमल पनेरु उमेश भट्ट ,लालमणि पनेरु ,रमेश पनेरु ,नरेश चंद्र ,गिरीश पनेरु ,हेमचंद्र पांडे ,नारायण सिंह ,धर्मानंद पनेरु कुशल राम ,ईश्वरी दत्त ,रमेश शर्मा ,लाल सिंह कवि सहित कई ग्रामीण मौजूद थे