आमा भूल गयी घर का रास्ता…नैनीताल की खैरना पुलिस बनी मददगार…आमा ने कहा जुग जुग जी रै च्यला त्यार नन जी रैं…

553

कोई घर का रास्ता भूल जाये और मददगार उसके घर तक पहुंचा दे, आशीर्वाद में यही शब्द निकलेंगे जुग जुग जी रै च्यला,, ऐसा ही कुछ किया नैनीताल पुलिस और चौकी इंचार्ज खैरना दिलीप कुमार की टीम ने, एक महिला आयी तो बाजार लेकिन अपने घर का रास्ता भूल गयी लेकिन जो ट्रीटमेंट खैरना पुलिस ने दिया तो माँ की आंख भर आयी और कहा त्यार नन जी रैं च्यला,
मामला खैरना चौकी का है जहां सूचना कि खैरना बाजार में एक बुजुर्ग महिला (आमा) रास्ता भटक कर अकेले घूम रही है जो अपना नाम पता सही नहीं बता पा रही है। इस सूचना पर चौकी प्रभारी खैरना एसआई दिलीप कुमार के साथ चौकी खैरना पुलिस बुजुर्ग आमा का सहारा बनकर नाम पता और घर का पता पूछा तो घर का सही पता नहीं बता पा रही थी तत्पश्चात पुलिस द्वारा सूचना प्रसारित कर परिजनों का पता लगाया और चौकी बुलाकर आमा को परिजनों के सुपुर्द किया गया परिजन नीमा थापा निवासी तिरछा खेत भवाली ने बताया कि आमा की याददाश्त कमजोर हो गई है जो सुबह से घर से गायब थी जिनको ढूंढने में लगे हुए थे परिजनों ने आमा के सकुशल मिलने पर नैनीताल पुलिस का धन्यवाद व्यक्त किया है।