ओखलढुंगा में नाले ने मचाई तबाही…50 परिवारों ने ली स्कूल में शरण आपदा जैसे हालात.. बादल फटने जैसे हालात बनने पर स्थानीय लोगों ने उठाए सवाल..

382

नैनीताल:
जनपद नैनीताल के कोटाबाग के ग्राम पंचायत ओखलढूंगा से बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां बादल फटने से करीब 50 परिवारों के घरों और गौशाला में पानी व मलबा घुस गया है। प्रभावित परिवारों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ओखलढूंगा में विस्थापित किया गया है। क्षेत्र के पूर्व विधायक प्रतिनिधि कृपाल बिष्ट ने बताया कि बादल फटने से ग्रामीणों की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है। ग्राम प्रधान प्रति चौरसिया और क्षेत्र पंचायत सदस्य नंदन चौधरी ग्रामीण हीरा भंडारी, गणेश पटवाल, मोहन चौरसिया, मोहन जोशी आदि ने प्रशासन से किसानों की फसल के नुकसान का सर्वे करवाकर उचित मुआवजा और डोन नाले में तटबंध बनाने की मांग की है। इधर, बारिश के कारण रामनगर से करीब 25 किमी दूर कालाढूंगी तहसील के पाटकोट-भलोन के बीच का नाला उफान में आ गया। वहीं पिथौरागढ़ में बारिश के कारण चीन सीमा को जोड़ने वाला धापा- मिलम मोटर मार्ग धापा के समीप बोल्डर मलबा गिरने से बंद हो गया है। लिपुलेख सड़क पहले से बंद है। जिले में 18 से अधिक सड़कों में मलबा आया है।