परेशानी…गौलापार के किसानों की समस्या पर केन्द्रीय मंत्री से मिले डाँ मुकेश बेलवाल..बताई ये परेशानियां और की ये मांग

403

गौलापार के किसानों की समस्या को लेकर केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री से मिले डॉ मुकेश बेलवाल

रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर” हल्द्वानी

हल्द्वानी नैनीताल
हल्द्वानी – इन दिनों हल्द्वानी शहर में रियल स्टेट रेगुलेशन ऑथॉरिटी (रेरा) (Real Estate Regulatory Authority) और किसानों के बीच बड़ा संघर्ष चल रहा है, दरअसल हल्द्वानी और गौलापार में प्राधिकरण और रेरा के नियमों को ताक में रखकर अवैध रूप से प्रॉपर्टी डीलरों द्वारा कालोनियां काटी जा रही थी, जिस पर प्राधिकरण अब सख्त हो गया है, रेरा के नियम के मुताबिक ही अब नई कॉलोनियां नियमानुसार काटी जा सकती हैं। जिसके बाद से अब लगातार किसान और प्रॉपर्टी डीलर इन नियमों का विरोध कर रहे हैं।


वही गौलापार भाजपा मण्डल अध्यक्ष डॉ मुकेश बेलवाल के नेतृत्व में सर्किट हाउस काठगोदाम पहुंचने पर केंद्रीय रक्षा एवम पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट से मुलाकात कर रेरा के अन्तर्गत गौलापार के छोटी जोत के किसानों को आ रही समस्याओं से अवगत कराकर समाधान हेतू ज्ञापन दिया। केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री द्वारा शासन स्तर पर बात कर जानता के हित में जो भी ठीक होगा उसे सरल और शिथिल करवाने का आश्वासन दिया इस दौरान राजेंद्र तिवाड़ी, त्रिलोक नौला, आनन्द मेहता, सतीश आर्या, हर्षित पचवाडी, मनमोहन सम्मल आदी लोग उपस्थित रहे।
रेरा के नियमों से क्या फायदा होगा –
रेरा खरीददारों के हिट का पूरा ध्यान रखता है, यह एक्ट 1 मई 2017 को भारत में अस्तित्व में आया रेरा के नियमों के मुताबिक अगर आप अपने लिए घर या किसी जगह पर जमीन खरीदते हैं, तो आपको तय समय में बिल्डर्स को आपको प्रॉपर्टी डिलीवर करनी होगी, इसके साथ ही आपको बुकिंग के समय केवल 10% ही देना होता है, जो पहले मनमाना लिया जाता था, इसके साथ ही कई अन्य फायदे खरीददार और बेचने वाले दोनों को फायदा होने वाला है।