@ दुखद… ★. कहीं गुम हो गई कुमाऊं के इस लोककलाकार की खनकती आवाज..लोगगायक प्रहलाद मेहरा का हुआ निधन ★. लोकगीत गायकी की दुनिया के मशहूर सितार प्रहलाद सिंह मेहरा.. रिपोर्ट (चन्दन सिंह बिष्ट) “स्टार खबर”

114

हल्द्वानी
53 साल की उम्र में मशहूर लोक गायक प्रहलाद सिंह मेहरा की हार्ट अटैक से हुई अचानक मौत ने मासूम की मौत कर दी है। अपनी आवाज से लोक सेवकों से लोगों का मधुर दिल जीत लिया। प्रसिद्ध लोकगीत गायक आज हमारे बीच नहीं रहे। प्रहलाद मेहरा ने उत्तराखण्ड़ में अपनी गायकी से नाम कमाया और कई मंच से अपनी मधुर आवाज का जलवा बिखेरा है..उनके निधन के बाद उनके प्रशंसकों में दुख का माहौल है..
आपको बतादें कि उत्तराखण्ड के जनमुद्दों से लेकर कई गाने उनके हिट रहे खास तौर पर जलेबी का डाब,,को लोगों ने खास पसंद किया था इतना ही नहीं बल्कि गायकी के अलावा मेहरा कई वाह्य यंत्र बजाने के लिये भी जाने जाते थे और हुड़के के साथ कई बार तो तस्वीरें सोशल साईड़ पर वो खुद अपलोड़ करते रहे हैं..