अनुसूचित आयोग के उपाध्यक्ष पीसी गोरखा ने जताई नाराजगी….10 दिन के भीतर मांगी रिपोर्ट….प्रधानों ने भी गिनाई समस्या समाधान के निर्देश…

96

नैनीताल – अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पी सी गोरखा ने शुक्रवार को रामनगर में विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण किया है। पहले पीसी गोरखा ने ढिकुली वन खत्तते भूमि का निरीक्षण किया जिसमें वन भूमि पर रह रहे अनुसूचित जाति को विभाग द्वारा उत्पीड़न करने का मामला प्रकाश में आया जिसमें उपाध्यक्ष ने रेंजर शेखर तिवाड़ी को निर्देश दिए की प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए मामले पर यथा स्थिति बनाए रखने के साथ शान्ति व्यवस्था कायम रखने को कहा है। इसके साथ ही विकास खण्ड कार्यालय सभागार मैं क्षेत्र के जनप्रतिनिधियो के साथ बैठक ली जिसमें सांसद प्रतिनिधि इंदर रावत ने पुष्प गुच्छ और प्रतीक चिन्ह भेंट कर स्वागत किया,

तत्पश्चात जन प्रतिनिधियों से संवाद किया जिसमें ग्रामप्रधानों द्वारा पंचायतों में बजट का अभाव बताते हुए अपनी नाराजगी जताई। मालधान चौड़ मैं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में डॉक्टर और चिकित्सा संबंधी उपक्रणो का नही होने से ईलाज हेतु अन्य स्थान जाने की बात कही साथ ही पर्यटन में नेचर गाइड करने के लिए 50% क्षेत्री व्यक्तियों को रोजगार उपलब्ध कराने की मांग रखी, शिमाल्लपुर पाण्डे गांव में गल्ला विक्रेता पर लोगों ने अभत्रता करने का आरोप लगाते हुऐ न्याय दिलाने की माग की, साथ ही सुन्दर खाल के निवासियों ने 21वीं सदी मैं भी बिजली नहीं पहुंच पाने से सरकार से नाराजगी जताते हुए कहा की सुन्दरखाल के निवासियों की सुद सिर्फ चुनावी समय में ली जाती है उसके बाद विकास पर कोई ध्यान नहीं देता और मनरेगा में सिर्फ अनुसूचित जाति के व्यक्तियों की धनराशि को रोकने का मामला सामने आया तो आयोग के उपाध्यक्ष पी सी गोरखा ने खण्ड विकास अधिकारी को 10 दिन भीतर जांच कराते हुए जांच रिपोर्ट आयोग को भेजने की बात कई,

वहीं उपाध्यक्ष ने कहा की एस सी पी योजनाओं को जान बूझ कर ब्लॉक करने वाले अधिकारयो पर कार्रवाई की जाएगी एससी बाहुल्य क्षेत्रों में शत प्रतिशत बजट को व्यय करना अनिवार्य बताया, कोतवाली रामनगर के निरीक्षण के दौरान दो मामलों पर एस सी/एस टी मामलों में पजीकृत में अनुदान राशि न मिलने पर सी.ओ बलजीत भाकुनी को जल्द धन राशी उपलब्ध कराते हुए अवगत कराने को कहा,

इस दौरान उपाध्यक्ष पी सी गोरखा ने तहसील का निरीक्षण कर उपजिलाधिकारी कार्यालय में संस्थाओं के साथ समीक्षा बैठक की गयी । अवसर पर उप जिला अधिकारी गौरव चटवाल सी ओ रामनगर बलजीत भाकुनी, प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार सैनी अधिशासी अभियंता जल संस्थान मनोज गंगवार जलनिगम एन के गोयल PWD नेहा शर्मा,विधुत दुर्गेश जोशी नगर पालिका देवेन्द्र सिंह सिंचाई चंनदन भारद्वाज जी,तहसीलदार बी सी पंत, खण्ड विकास अधिकारी उमाकान्त पंत, वन क्षेत्राधिकारी शेखर तिवाड़ी जी ,जेष्ट प्रमुख संजय नेगी, कनिष्ठ प्रमुख मुकेश, प्रधान एस लाल जी,अध्यक्ष प्रधान संगठन राहुल डंगवाल हेमचंद्र जोशी,मोहम्मद ताहिर आदि मौजूद थे ।