महँगाई डायन खाय जात है…5 साल की बच्ची ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र…

0
170

अब मेरी मां पेसिंल मांगने पर मारती है। मैं क्या करूं.. बच्चे मेरी पेंसिल चोरी कर लेते हैं।

देश भर में बढ़ती महंगाई से आम नागरिक बेहद परेशान हैं।नित्य इस्तेमाल की वस्तुओं जिसमें खाने से लेकर पढ़ने-लिखने के लिए जरूर सामग्री जैसे स्टेशनरी आदि भी महंगी हो गई हैं। इसी बढ़ती महँगाई से परेशान माता-पिता अक्सर घर पर चर्चा करते रहते थे।और उनकी नन्ही 5 वर्षीय बेटी यह सब सुनती रहती थी।इस पर परेशान होकर कक्षा एक में पढ़ने वाली छात्रा कृति दुबे ने पीएम नरेंद्र मोदी को एक पत्र के माध्यम से अपनी पीड़ा को लिखा है।और महँगाई कम करने के लिए निवेदन भी किया है।

पत्र में बढ़ती महँगाई पर जताई नाराजगी…

बढ़ती महंगाई से होने वाली समस्याओं से परेशान होकर इत्र नगरी कन्नौज के छिबरामऊ कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला बिरतिया की कक्षा एक में पढ़ने वाली छात्रा कृति दुबे ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अपनी व परिवार की समस्या के बारे में बताया है। छोटी सी बच्ची द्वारा अपनी नाराजगी को पत्र के माध्यम से व्यक्त करने के कारण पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया है।व सोशल मीडिया पर भी प्रधानमंत्री को लिखे इस पत्र की जानकारी को खूब शेयर किया जा रहा है।

स्टेशनरी,खाद्य सामग्री से लेकर सभी कुछ हुआ महंगा…कृति दुबे

दरअसल कृति दुबे के पिता विशाल दुबे पेशे से अधिवक्ता हैं।उनकी पांच वर्षीय बेटी कृति दुबे नगर के ही सुप्रभाष अकादमी में कक्षा एक की छात्रा है।क्योंकि बेतहाशा बढ़ती महंगाई की चर्चा सभी घरों में होती ही रहती है।उसी महंगाई की गाथा सुनते-सुनते कृति ने परेशान होकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख दिया। पत्र में लिखा कि मेरा नाम कृति दुबे है। मैं कक्षा एक में पढ़ती हूँ। मोदी जी आपने बहुत महंगाई कर दी है। पेंसिल, रबड़ तक महंगी कर दी है।और मेरी मैगी के भी दाम बढ़ा दिए हैं। अब मेरी मां पेसिंल मांगने पर मारती है। मैं क्या करूं.. बच्चे मेरी पेंसिल चोरी कर लेते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here