खतरा…..बुलड़ोजर को भी ड़र लगता है साहब….सरकार तोड़ रही है अतिक्रमण इनसे बताया जानमाल का खतरा… आतंकी संगठन आईएसआईएस से भी जुड़े हैं तार…

0
112

नैनीताल – यूपी से लेकर उत्तराखण्ड में बुलड़ोजर खूब गरज रहा है। अपराधी हों चाहे अवैध कब्जे करने वाले लोग या फिर बाहरी लोगों द्वारा सरकारी जमीन पर कब्जा करने का मामला सरकार ऐसे लोगों को चिन्हित कर जमीनों को खाली करा रही हैं नैनीताल में भी 5 मई को बारापत्थर क्षेत्र में घोड़ा मालिकों द्वारा सरकारी जमीन पर मकान दुकान खाली कराने के लिये दल बल के साथ गये और कब्जा हटाया गया लेकिन अब इस मामले में नया मोड़ आ गया है। नैनीताल में अवैध कब्जे पर बुलड़ोजर चलाने वाले ड्राइवर ने अपने अधिकारियों को पत्र लिखकर कहा है कि उनको धमकी मिल रही हैं और उनको जान माल का खतरा बन गया है उसको सुरक्षा दी जाए।

कार्रवाई के बाद अब बुलडोजर ड्राइवर का ड़र...

दरअसल नैनीताल के बारापत्थर में हुई कार्रवाई के बाद जेसीबी के ड्राइवर ने देवेन्द्र सिंह ने अपने विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखा है इसमें साफ तौर पर कहा गया है कि 5 मई को उसकी ड्यूटी जेसीबी में लगी थी उसने सरकारी अधिकारियों के साथ मिलकर अतिक्रमण हटाने में अधिकारियों के आदेश का पालन किया लेकिन 14 मई को उसी इलाके में अतिक्रमण सफाई के दौरान कुछ लोगों ने जेसीबी देखते ही गाली दी और मारने की धमकी दी है जेसीबी ड्राइवर ने जान माल का खतरा बताते हुए आवश्यक कार्रवाई की मांग की है। इस पत्र के सामने आने के बाद अब तरह तरह के चर्चे आम होने लगे हैं। हांलाकि अभी तक इस पत्र के संज्ञान पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। दरअसल बुलड़ोजर बाबा के ड्राइवर का नैनीताल में डर सामने आने से अब अतिक्रमणकारियों के हौसले बुलंद हो रहे हैं और नैनीताल में अभी बारापत्थर समेत मेट्रोपोल और अन्य स्थानों पर बड़ी कार्रवाई होनी है वहीं हल्द्वानी में रेलवे बाजार में तो 4 हजार से ज्यादा मकानों को हटाया जाना है..

अतिक्रमण हटाने के बाद आईएसआईएस से जुड़ गया था मामला….

दरअसल नैनीताल में अतिक्रमण हटाने के बाद कुछ लोगों ने अतिक्रमण हटाने के वीडियों के साथ आतंकी संगठन आईएसआईएस से खुद के तार जोड़ लिये जिसके बाद कुछ लोगों ने आतंकी संगठन का झण्डा और लडाकों का अतिक्रमण पर वीडियों बनाकर जारी किया था जिसको बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से जोड़ा और उनकी तस्वीर भी इसमें शामिल की थी..हांलाकि इस मामले में अभी जांच जारी है और कुछ लोगों के फोन को पुलिस ने जब्त किया है..वहीं पुलिस के रड़ार पर 20 से ज्यादा लोग हैं जिनसे जल्द ही पूछताछ हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here