जीवन प्रमाण पत्र अपडेट को लेकर ठगी शुरू

37

पेंशन की निरंतरता के लिए पेंशनरों को हर साल जीवन प्रमाण पत्र अपडेट कराना होता है। इसके लिए वयोवृद्ध पेंशनर खासे परेशान रहते हैं। ऐसी स्थिति को भांपते हुए साइबर ठग जीवन प्रमाण पत्र के नाम पर पेंशनरों को काल कर रहे हैं। वह खुद को कोषागार कार्मिक बताते हैं। इस संबंध में मुख्य कोषाधिकारी दिनेश कुमार राणा ने जनपद के सभी पेंशनरों को आगाह किया है। की इस संबंध में कोषागार से पेंशनरों को जीवन प्रमाण पत्र के लिए किसी तरह का काल नहीं किया जाता है। यदि ऐसा कोई काल आता है तो संबंधित व्यक्ति के साथ अपनी कोई जानकारी साझा न करें।
मुख्य कोषाधिकारी राणा के मुताबिक ऐसी कई शिकायतें उन्हें मिली हैं। हालांकि, अब तक किसी मामले में ठगी की सूचना नहीं है। उन्होंने बताया कि पेंशनरों को काल की जा रही। काल करने वाले व्यक्ति पेंशनरों से विभिन्न जानकारी मांग रहे हैं। यह लोग साइबर ठग हो सकते हैं। ऐसे में यदि काल आए तो इसकी जानकारी कोषागार या नजदीकी साइबर थाने में दें।