जोशीमठ भू-धंसाव मामले में बनाई गई कमेटी की रिपोर्ट आने से पहले ही काँग्रेस स्वयंभू एक्सपर्ट बन कर रही अनर्गल बयानबाज़ी..मक़सद तात्कालिक राजनैतिक लाभ लेना- हेमंत द्विवेदी

167

जोशीमठ आपदा पर काँग्रेस नेता गलत जानकारी व भ्रामक तथ्यों के आधार पर तत्काल राजनैतिक लाभ लेने के उद्देश्यों से कर रहे गलत बयानबाज़ी..- हेमंत द्विवेदी भाजपा प्रदेश प्रवक्ता

देहरादून-प्रदेश के भाजपा नेताओं ने काँग्रेस के राज्य व केंद्रीय नेताओं पर जोशीमठ आपदा को लेकर गलत व भ्रामक तथ्य सामने रखकर गैरजिम्मेदाराना राजनीति करने का आरोप लगाया है।भाजपा प्रदेश प्रवक्ता हेमंत द्विवेदी ने काँग्रेस के आरोपों के पलटवार कहा कि जिस एन.टी.पी.सी प्रोजेक्ट को आपदा का कारण बताकर भाजपा पर आरोप लगाये जा रहे हैं। उसका एम.ओ.यू व शिलान्यास तक काँग्रेस सरकार के कार्यकाल में ही हुआ है।जिसका एम.ओ.यू साइन 2002 में काँग्रेस की तत्कालीन सरकार ने एन.टी.पी.सी के साथ किया था। इतना ही नही वर्ष 2005 में इसकी आधारशिला भी काँग्रेस नेताओं ने रखी थी और इसी तरह पहाड़ में निर्माणाधीन अधिकांश जल विधुत परियोजनाओं में काँग्रेस सरकारों का योगदान व सहमति रही है।इसलिए काँग्रेस को स्पष्ट करना चाहिए कि उनकी नीति तब गलत थी या आज के उनके बयान गलत है।

विशेषज्ञ कमेटी की रिपोर्ट आने से पहले ही काँग्रेस स्वयंभू एक्सपर्ट बनकर तात्कालिक राजनैतिक लाभ लेने एवं भाजपा सरकार को बदनाम करने के उद्देश्य से कर रही गैरजिम्मेदाराना बयानबाज़ी…

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता हेमंत द्विवेदी ने कहा कि आज सरकार की प्राथमिकता प्रभावित लोगों को मदद पहुंचाने की है। चाहे उनके रहने, खाने, स्वास्थ्य आदि की व्यवस्था करना हो या उनके भवनों प्रतिष्ठानों को हुए नुकसान का आंकलन करना हो। उन्होंने कहा केंद्र की 8 अलग अलग विभागों से वैज्ञानिक व तकनीकी विशेषज्ञों की टीम व प्रदेश सरकार की एजेंसियां और प्रशासन जोशीमठ शहर में भू धंसाव का अध्ययन व निगरानी कर रहा है। इसके बाद जो भी रिपोर्ट सामने आएगी उस पर स्थायी समाधान की दृष्टि से तत्काल कदम उठाए जाएंगे। इस आपदा की घड़ी में केंद्र व राज्य सरकार पूरी तरह जोशीमठ के लोगों के साथ खड़ी है।उन्होंने कहा कि आपदा के समय सभी राजनैतिक दलों को संबंध में सकारात्मक सहयोग करना चाहिए और अनर्गल बयानबाज़ी से भी बचना चाहिए।

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।