जयकारों से गुंजा नैनीताल के भलयूटी गावँ…सामूहिक जनेऊ संस्कार…सोभा यात्रा के साथ खत्म हुआ भागवत

82

नैनीताल ग्राम भलयूटी स्थित देवी मंदिर में आयोजित नौ दिवसीय श्रीमद् देवीभागवत आयोजन का समापन हवन पूर्णाहुति शोभा यात्रा समापन कथा व्यास पूजा और भंडारे प्रसाद वितरण के साथ संपन्न हो गया।इस दौरान सामूहिक निःशुल्क यज्ञोपवीत संस्कार में दर्जनभर से ज्यादा बटुकों का जनेऊ धारण किया गया।व्यास हरिओम शास्त्री ने समापन प्रवचन करते कहा कि धार्मिक आयोजन सामाजिक एकजुटता और आपसी सहयोग को सुदृढ़ करते हैं साथ ही धार्मिक आस्था को भी मजबूत करते हैं।उन्होंने धार्मिक, सांस्कृतिक, संस्कारों को जीवित रखने का आह्वान भी किया।
इससे पूर्व भक्तिमय माहौल में पारम्परिक परिधानों और बैंड बाजे के साथ मंदिर परिसर से ज्योलीकोट बाजार तक शोभायात्रा निकाली गई। आयोजन समिति ने सफल आयोजन के लिए सभी का आभार व्यक्त किया धार्मिक अनुष्ठान में संजय सती,कैलाश जोशी,कल्याण सिंह,संगीतमय प्रस्तुति में रमेश जोशी कमल जोशी,नरेश चमियाल,नवीन तिवारी,गोविंद जोशी,व्यस्था बनाने में पूरन कांडपाल,नंदन सिंह बोरा, मंजू कांडपाल,पूरन जोशी,ग्राम प्रधान रजनी रावत, नरेंद्र रावत,पुष्पा जोशी,पुष्कर बरगली,गीता गुरुरानी, मंजू बोरा, देवेंद्र बरगली,श्याम सिंह,बर्गली,पूनम बोरा प्रेमा बर्गली चंपा बर्गली, गोविंद बोरा, कुंदन लाल वर्मा,मोहन पडियार,पारस बरगली,नंदन पडियार जलज बिष्ट सहित तमाम युवाओं,भजन कीर्तन में महिला मंडल द्वारा सहयोग किया गया।