नैनीताल भवाली ज्योलिकोट में याद किये गए पंत….खूंट गावँ से लेकर भारत रत्न तक का सफर….आज भी पहाड़ को गर्व

0
30

नैनीताल – नैनीताल में पंत जयंती को बड़ी ही धूमधाम से मनाया है। 135वें जन्मोत्सव कार्यक्रम में केंद्र पर्यटन रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट पहुंचे और पहाड़ के इस लाल को उनके योगदान के लिए याद किया। इस दौरान कार्यक्रम में आये लोगों ने उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प लिया है। इस दौरान मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे अजय भट्ट ने कहा कि सरकार और समिति का प्रयास है कि भवाली में भारत रत्न गोविंद बल्लभ पंत के घर को संग्रहालय के तौर पर तैयार करेंगे ताकि देश भर के लोग उनको जान सकें। वहीं इस दौरान अजय भट्ट ने कहा कि केंद्र सरकार देश भर में 100 सैनिक स्कूल खोल रही है और पर्यटन में कुमाऊं में चारधाम तर्ज पर यात्रा करने पर फोकस है।

ज्योलिकोट में भी याद किये गए पंत जी…

ज्योलीकोट में भी भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत की 135वी जयंती शहीद हीरा बल्लभ भट्ट राजकीय इंटर कॉलेज में समारोह पूर्वक मनायी गई। इस मौके पर श्री पंत के चित्र पर माल्यार्पण,अतिथियों का, स्वागत,सम्मान,जीआईसी और संत एंथोनी इंटर कालेज के विद्यार्थियों द्वारा विविध देशभक्ति और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए,जिसे दर्शकों ने काफी सराहा,प्रतिभागियों को पुरस्कार दिया गया।मुख्य अतिथि पूर्व विधायक डॉ नारायण सिंह जन्तवाल ने कहा कि विराट व्यक्तित्व के धनी भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत का आजादी से पूर्व और आजादी के बाद योगदान अतुलनीय,अविस्मरणीय है,उनकी दूरदर्शिता से ही तत्कालीन समय में उनके प्रयासों का लाभ आज भी प्रदेश को मिल रहा है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते खंड शिक्षा अधिकारी मान सिंह राणा,प्रधानाचार्य कुन्दन सिंह,हरगोविंद रावत ने कहा कि हमें उनके आदर्शो से प्रेरणा लेनी चाहिए। संत एंथोनी इंटर कालेज की प्रधानाचार्या सिस्टर शोभा,सिस्टर मरीयल्ला ग्राम प्रधान हरगोविंद रावत,शशि चनियाल रजनी रावत,कैलाश जोशी,नन्दबल्लभ पांडे, दिनेश बर्गली,भुवन रावत,पुष्कर जोशी,राहुल चौहान,दीपू बिष्ट,कैलाश वर्मा,इंदर नेगी, रामदत्त,दिनेश गुरुरानी,पूरन जोशी,पान सिंह सिजवाली, ललित बिष्ट सभी शिक्षक,कर्मचारी,आदि उपस्थित रहे।इस दौरान जनकवि गिरिश तिवारी गिर्दा को उनके जान गीतों के माध्यम से याद किया गया।संचालन प्राध्यापक उमेश साह, दिनेश चंद्र और दीप चंद्र विद्यार्थी द्वारा किया गया। एन एन एस के स्वयंसेवकों द्वारा सहयोग किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here