न्याय की मांग..पहाड़ की बेटी को श्रद्धांजलि और दोषियों के लिए मांगी कठोर कार्रवाई….पहाड़ को बेटी को दी श्रद्धांजलि..

76

नैनीताल – पहाड़ की बेटी अंकिता के लिए न्याय की मांग तेज हो गयी है। नैनितल में उत्तराखंड अधिकारी कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति ने अंकिता को ना सिर्फ श्रद्धांजलि दी बल्कि दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है। समिति के सदस्यों ने दर्शन घर तल्लीताल मे अंकिता भंडारी को दो मिनट का मौन रख कर‌ तथा कैंडिल जला कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की और सरकार से दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने की मांग की गई।
समन्वय समिति के संरक्षक बहादुर सिंह बिष्ट ने कहा कि समिति द्वारा 20 सूत्रीय मांगों को लेकर विगत 27 दिन से आंदोलन चलाया जा रहा है, उसी क्रम में आज विशाल रैली का आयोजन किया जाना था, लेकिन उत्तराखंड मे विगत दिनों हुए जघन्य हत्याकांड के परिपेक्ष में रैली को स्थगित कर अंकिता भंडारी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करने का कार्यक्रम समिति द्वारा किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित समिति के सभी सदस्यों ने इस हत्याकांड घोर निंदा की गई। प्रदेश में पर्यटन के नाम पर हो रहे अनैतिक कार्यों को तुरंत रोकने के लिए कठोर से कठोर नीति बनाने की भी मांग की गई। संयोजक सचिव असलम अली ने कहा कि घृणित कांड ने उत्तराखंड की जनमानस को झकझोर कर रख दिया है तथा समाज मे महिलाएं स्वयं को असुरक्षित महसूस कर रही हैं।

समिति के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में मुख्य संयोजक कमल प्रताप सिंह भाकुनी, त्रिलोक सिंह रौतेला एन बी पालीवाल, जगदीश पपनै, गणेश सिंह, नवल बिनवाल, दीपक बिष्ट, गणेश नयाल, हिमेश संनवाल, हयात, वंदना साह, कृष्णा चिन्याल, संजय जोशी, तथा इसरार बेग सहित दर्जनों कर्मचारी उपस्थित थे।