उत्तराखंड में राजनीतिक हलचल तेज…मुख्य मंत्री के बाद दिल्ली पहुंचे सतपाल धनसिंह और रितु खंडूरी….इस राज्यपाल की मौजूदगी के मची हलचल…

536

दिल्ली – उत्तराखण्ड़ में एक बार फिर राजनीति में हलचल तेज हो गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के दिल्ली दौरे के बाद कई कयास लगाए जाने लगे हैं और मंत्रीमंड़ल में फेरबदल के साथ विस्तार भी हो सकता है। कल दिल्ली दौरे के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री कार्यालय से प्रधानमंत्री मोदी से मिलने का समय मांगा है और आज सुबह मुख्यमंत्री धामी और प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से भी मुलाकात की है।
इसके साथ ही पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज भी दिल्ली में हैं और विधानसभा स्पीकर रितु खण्डूरी व कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत को भी दिल्ली बुलाई गई हैं। उत्तराखण्ड के नेताओं का दिल्ली में लगे इस जमावड़े के लिये कहा जा रहा है कि जल्द ही कुछ बदलाव मंत्रीमण्डल में हो सकता है।
दरअसल पिछले दिनों विधानसभा में हुई भर्ती मामले में जिस कदर सवाल उठे थे उसके बाद एक बार फिर कयास लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी कुछ मंत्रियों की छुट्टी भी कर सकती है। वहीं जनता में भी ये चर्चा आम होने लगी हैं कि तीनों को हटाने का निर्णय लिया जा सकता है। सूत्रों की मानें तो केंद्रीय मंत्री अमित शाह से पिछले दौरे पर राज्य सरकार की परफॉर्मेंस रिपोर्ट पर चर्चा हो गई थी लेकिन कई मसलों पर जेपी नड्डा से वार्ता नहीं हो पाई थी। इसी बीच जिस तरह से पूर्व स्पीकर और वर्तमान सरकार ने संसदीय कार्य मंत्री के साथ साथ वित्त और शहरी विकास जैसे अहम विभाग संभाल रहे प्रेमचंद अग्रवाल ने बैकडोर भर्तियों के मसले पर सरकार और संगठन की छीछालेदार कराई है, वह न मुख्यमंत्री और ना ही पार्टी आलाकमान को रास आई है।