कार्रवाई….होटल गेस्ट हाउस फर्जी 5 के बाद 3 होटल और सीज….किसी के पास जीएसटी नहीं तो कुछ अवैध रूप से पर्यटकों को दे रहे हैं कमरा…

309
  1. नैनीताल:::: प्रदेश में अवैध होटलों व होम स्टे पर शासन और प्रशासन ने नकेल कसान शुरू कर दिया है। वही पिछले दिनों हुए अंकिता हत्याकांड के बाद सरकार भी एक्शन में नज़र आ रही है। नैनीताल में प्रशासन भी बीते दिनों से हरकत में नज़र आ रहा है शनिवार को नैनीताल से लगे धानाचूली में प्रशासन ने ताबड़तोड़ छापेमारी की व अवैध रूप से संचालित हो रहे 5 होटलों, होम स्टे व रिसॉर्ट को सीज किया वही कागजात पूरे ना होने पर कई और होटलों पर भी चालानी कार्यवाही की गई। वही रविवार को एसडीएम राहुल साह की आगवाई में नगर के होटलों, होम स्टे पर औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान बताया कि जिले के डीएम धीराज गर्ब्याल के आदेशों के बाद अभियान चलाया जा रहा है अधिकतर होटल व होम स्टे के मालिको का कही भी  रजिस्ट्रेशन नही है साथ ही बिना जीएसटी के इन्हें संचालित किया जा रहा है। इसके साथ ही पर्यटकों को रुकवाने समेत बिना आईडी के कमरे दिए जा रहे है।  अवैध किचन के साथ ही गंदगी पर भी चालानी कार्यवाही की जा रही है। एसडीएम ने बताया कि नैनीताल के साथ ही मुक्तेश्वर, भडेलिया, रामगढ़ में भी एक अन्य टीम चैकिंग के लिए भेजी गई है। एसडीएम ने बताया कि अभी तक नैनीताल में चेंकिंग के दौरान दो व मुक्तेश्वर में एक अवैध प्रोपर्टी को सीज किया गया है। बताया कि अधिक संख्या में संचालित हो रहे होटल, होम स्टे व रिसॉर्ट में अधिकार मालिको के पास रजिस्ट्रेशन नही है।

नैनीताल होटल  एसोसिएशन ने भी पूर्व में कही थी ये बात

:::: होटल एसोसिएशन ने भी पहले भी इस बात पर चिंता जाहिर की थी पर कोई कार्यवाही नही की गई। वही एसोसिएशन के अध्यक्ष दिग्विजय बिष्ट ने बताया कि नगर में लगभग केवल 250 होटल, होम स्टे व रिसॉर्ट संवैधानिक तरीके से चल रहे है जबकि इसके इतर लगभग 600 से अधिक अवैध रूप से संचालित किए जा रहे है। जिससे हर वर्ष सरकार को भी राजस्व का घाटा हो रहा है व अन्य वैध कारोबारियों को भी काम करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बताया कि एसओसीएशन ने पहले भी सरकार व प्रशासन से इस तरह की मुहिम चलने की बात कही थी। वही एसडीएम ने कहा कि डीएम के निर्देश पर कार्रवाई जारी है और किसी को भी नहीं बक्सा जाएगा।