जिला पंचायत देगी जमीनों के कब्जेदारों को नोटिस…सालों से दुकान मकान गैराज बनाकर रह रहे हैं लोग…75 लाख की वसूली भी नहीं कर सकी जिला पंचायत….अब ले लिए ये निर्णय…

147

नैनीताल – नैनीताल जिला पंचायत की बैठक बड़ी गर्मा-गर्म रही है। जिला पंचायत सभागार में बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं तो 75 लाख की वसूली पर भी चर्चा हुई है। वहीं बैठक के दौरान निर्णय लिया है कि अगर जिला पंचायत की बैठक में डीएम नहीं उपस्थित नहीं रहेंगे तो बैठक होगी ही नहीं,, नैनीताल में जिला पंचायत की बैठक में आज निर्णय लिया गया है कि डीएम के साथ  अन्य अधिकारियों की उपस्थिति भी अनिवार्य है अगर डीएम नहीं बैठक में आएंगे तो सभी सदस्य बैठक का विरोध करेंगे। नैनीताल जिला पंचायत कार्यालय में बैठक के दौरान आज सदस्यों ने कहा कि बैठक में अधिकारी आते ही नहीं जिसका असर विकास कार्यों पर पड़ रहा है।

और भी लिए गए निर्णय..आय बढ़ाने के लिए भी चर्चा

इसके साथ ही निर्णय लिया गया है कि जिला पंचायत की जमीनों पर दुकान मकान गैराज बनाकर जमीन कब्जाने वालों से कब्जा खाली किया जाएगा जिसके लिए पहले चरण में सभी जमीन का सर्वे किया जाएगा। बैठक में निर्णय लिया गया कि जिला पंचायत के पुराने ठेकेदार पर लदान ढुलान का 75 लाख की देनदारी पर चर्चा हुई है,, हालांकि ठेकेदार ने जिला पंचायत को कहा है कि उसको एनएच पर टोल नहीं लगाने देने की बात कही है वहीं चर्चा के दौरान इस बार ठेके में पहले ही शर्त लिखने को कहा है कि ऐसे मामलों में जिला पंचायत की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी। बैठक के दौरान जिला पंचायत सदस्य अनिल चनौतिया ने ग्रामीण इलाकों में कूड़ा उठाने की मांग और होटलों द्वारा जंगल मे कूड़ा डाले जाने के मामले को बैठक में रखा जिस पर निर्णय लिया गया कि जिले में कूड़ा निस्तारण की जल्द व्यवस्था की जाएगी और स्वच्छ्ता के लिए हर ब्लाक में सुलभ शौचालय का निर्माण होगा। वहीं अनिल चनौतिया ने कहा कि जिला पंचायत क्षेत्र में व्यावसायिक निर्माण के लिए स्थानीय सदस्य की भी एनओसी जरूरी ली जाए। वहीं जिला पंचायत सदस्य दीपक मेलकानी ने कहा कि नैनीताल के साथ मुक्तेश्वर और रामगढ़ के साथ अन्य स्थानों पर जिला पंचायत की खाली जमीनों पर पार्किंग निर्माण किया जाए ताकि लोगों को सुविधा और जिला पंचायत की आय बढ़ाई जा सके, साथ ही जिला पंचायत की आय बढ़ाने के लिए दुकानों के किराए में बढ़ोतरी कर वसूली की कार्रवाई हो। ग्रामीण इलाकों में सोलर लाइट लगाने पर चर्चा हुई है। बैठक के बाद बेला तौलिया ने कहा कि कोरोना के चलते अधिकारी नहीं पहुंच रहे थे लेकिन अब उनको कहा जायेगा कि बैठक में मौजूद रहें। बेला तौलिया ने कहा कि जिला पंचायत की जमीनों से कब्जा हटाने के लिए नया अमीन से सर्वे कराया जाएगा और इस पर नोटिस दे रहे हैं वहीं कोरोना के चलते जो माफ किराया किया था वो अब बढ़कर आएगा। बैठक के दौरान उपाध्यक्ष आनंद दरमवाल, दीपक मेलकानी,अनिल चनौतिया, किशोरी लाल, कमलेश बिष्ट,पूजा अरोड़ा,,प्रेम बल्लभ ब्रजवासी, पूजा  अरोड़ा, समेत कई अधिकारी कर्मचारी व अन्य सदस्य मौजूद रहे।

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।