अचानक क्यों नाराज हो गयी ब्लाक प्रमुख….वेतन रोकने की उठाई मांग ..क्या विधायक करेंगे अब समर्थन…ढोलीगावँ में लगा था बहुद्देशीय शिविर….

0
735

रिपोर्ट -(चंदन सिंह बिष्ट) स्टार खबर

ओखलकांडा:ब्लॉक के न्याय पंचायत सुनकोट के ढोलीगांव में आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में कई विभागों अधिकारी नदारद रहे. जिसको लेकर शिविर का उद्देश्य पूरा नहीं हो पाया. लोगों को अधिकतर समस्याओं को लेकर बैरंग ही लौटना पड़ा. जिस पर लोगों ने कड़ी नाराजगी जताई ।ओखलकाण्डा ब्लाक की ब्लाक प्रमुख कमलेश कैड़ा की अध्यक्षता में न्याय पंचायत सुनकोट के ढोलीगांव में बहुउद्देशीय शिविर प्रस्तावित किया गया था. ग्रामीणों की समस्याओं के समाधान को लेकर सभी विभागों से शिविर में प्रतिभाग करने को कहा गया था. लेकिन इस शिविर में स्वास्थ्य, कृषि, विद्युत, सहकारिता समाज कल्याण विभागों द्वारा स्टॉल लगाकर लोगों की समस्याओं का निस्तारण किया गया.जबकि इस बहुउद्देशीय शिविर में कई विभागों द्वारा प्रतिभाग नहीं किया गया. जिस पर लोगों को योजनाओं का लाभ और उनकी समस्याओं का निस्तारण नहीं हो पाया. वहीं ब्लाक प्रमुख कमलेश कैड़ा ने कहा कि बहुउद्देशीय शिविर में जो जो अधिकारी नहीं आए थे उनका वेतन रोका जाना चाहिए और उन पर कार्यवाही होनी चाहिए । पूर्व में शिविर की जानकारी सभी विभागों तक पहुंचा दी गई थी. बावजूद इसके कुछ विभागों ने शिविर से कन्नी काट ली.उन्होंने कहा कि सरकार ने लोगों की समस्याओं के समाधान व सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए बहुउद्देशीय शिविरों का आयोजन किया. लेकिन सरकारी सिस्टम की उदासीनता के चलते शिविरों में लोगों को अधिक लाभ नहीं मिल पा रहा है । शिविर में तहसीलदार तान्या रजवार, उप कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा राजेंद्र भट्ट ,राष्ट्रीय आजीविका मिशन जानकी डसीला ,सहायक समाज कल्याण अधिकारी केएन शर्मा ,पशु चिकित्सा अधिकारी ढोलीगांव डॉ रिजवान, चिकित्सा अधिकारी ढोलीगांव रीता काला भंडारी ,जनप्रतिनिधि में प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्य सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here