नैनीताल पुलिस का गुड वर्क..10 दिनों के भीतर ही सर्प दंश हत्याकांड के सभी आरोपियों को पहुँचाया सलाखों के पीछे…

201

उत्तराखंड के बहुचर्चित सर्प दंश हत्याकांड के सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में..जल्द हो सकते है और अहम खुलासे…

उत्तराखंड के कुमाऊँ प्रवेश द्वार हल्द्वानी में बहुचर्चित सर्प दंश हत्याकांड की मास्टरमाइंड माही व उसका तथाकथित प्रेमी दीप काण्डपाल तो रविवार को ही पुलिस की गिरफ्त में आ गए थे।विगत दिनों उक्त हत्याकांड में शामिल माही की नौकरानी उषा व उसका पति रामअवतार पश्चिमी बंगाल के मालदा टाऊन से गिरफ्तार कर लिए गए।पुलिस द्वारा की गई यह गिरफ्तारी मोबाइल सर्विलांस के जरिये संभव हो पायी।आपको बता दें कि 15 जुलाई को हल्द्वानी के तीन पानी रेलवे क्रासिंग पर एक स्टार्ट कार के भीतर एक व्यक्ति की लाश पुलिस द्वारा बरामद की गई थी।जिसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सर्प दंश के दोनों पैरों में निशान मिले थे।मृतक की बहन द्वारा माही उर्फ डॉली के ख़िलाफ़ उक्त हत्या की रिपोर्ट कोतवाली हल्द्वानी में दर्ज करवाई गई। पुलिस जाँच में माही हत्याकांड में शामिल अपनी पूरी टीम को लेकर गायब हो गई।पर मोबाइल रिकार्ड्स में एक कॉल सपेरे रमेश नाथ को की गई थी जिससे पुलिस ने सपेरे रमेश नाथ को गिरफ्तार कर लिया।रमेश नाथ ने जब पूरे हत्याकांड से पर्दा उठाया तो आमजन की रूह ही काँप गई।तभी से सर्प दंश हत्याकांड के सभी आरोपियों की धड़पकड़ के लिए पुलिस ने कई टीमों को बनाकर कार्यवाही शुरू कर दी थी।

मोबाइल सर्विलांस के जरिये हुई सर्प दंश हत्याकांड के 50 हज़ार के इनामी आरोपियों की गिरफ्तारी…- पंकज भट्ट एस.एस.पी नैनीताल

एस.एस.पी नैनीताल पंकज भट्ट ने बताया कि 24 जुलाई को पश्चिम बंगाल के हरिपुर गोदी थाना रतऊ जिला मालदा से सर्प दंश हत्याकांड के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। वहां से पुलिस को ट्रांजिट रिमांड मिल गई।पुलिस दोनों आरोपियों को लेकर वहां से हल्द्वानी के लिए निकल गई है।
अंकित हत्याकांड को अंजाम देने के बाद माही की नौकरानी और उसका पति रामअवतार अपने दोनों बच्चों के साथ पश्चिम बंगाल जा कर छुप गये थे। दोनों ने ही घटना के बाद से ही अपना मोबाइल बंद कर दिया था।लेकिन उषा ने जैसे ही अपना मोबाइल ऑन किया तुरंत ही सर्विलांस के जरिये पुलिस को सुराग मिल गया।फौरन ही उत्तराखंड पुलिस टीम ने पश्चिम बंगाल पुलिस के साथ मिलकर ऑपरेशन चलाया व नौकरानी उषा और उसके पति राम औतार को पश्चिम बंगाल के मालदा टाउन से गिरफ्तार कर लिया। अब अंकित हत्याकांड में कुछ और अहम खुलासे बुधवार तक हो सकते हैं।