अंकिता हत्याकांड…धामी सरकार नहीं दाखिल कर सकी हाई कोर्ट में रिपोर्ट. अब अंकिता के माँ पिताजी ने क्या कहा हाई कोर्ट में आकर….बुलडोजर से तोड़े गए होटल पर उठाये सवाल मांगा ब्यौरा..

185

नैनीताल– अंकिता भण्डारी हत्याकांड़ में सीबीआई जांच को लेकर हाईकोर्ट में सरकार प्रोग्रेस रिपोर्ट दाखिल नहीं कर सकी है। हाईकोर्ट की एकलपीठ ने आज सरकार को 11 नवम्बर तक टाइम दिया है और पूरी रिपोर्ट फाइल करने को कहा है,,,कोर्ट ने पूछा है कि जिस रिजाँर्ट को ध्वस्त किया गया उससे क्या सबूत मिले जो फाँरेंसिक जांच के लिये भेजे हैं। इसके साथ ही अंकिता के माँ बाप ने भी खुद को पार्टी बनाने की मांग कोर्ट में दाखिल की जा रही हैं जिस पर भी 11 नवम्बर को सुनवाई होना तय है। दरअसल पौढी के आशुतोष नेगी ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर पूरे मामले की सीबीआई से जांच की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि सरकार इसे पहले सिर्फ एक आत्महत्या बताने की कोशिश में थी लेकिन मीडिया में आने मामला ठीक हो सका है। याचिका में कहा गया है कि अंकिता पर किसी वीआईपी के साथ शारिरिक संबन्ध बनाने और स्पेशल सर्विस देनी का दबाव डाला जा रहा था वो स्पेशल गेस्ट कौन था इसका पता नहीं चल सका है और क्राइम सीन को भी नष्ट किया गया है। याचिका में लोकल एमएलए रेनू बिष्ट का जिक्र करते हुए कहा है कि उनकी मौजूदगी में क्राइम सीन नष्ट किया गया है। इसके अलावा याचिका में डीबीआर सीसीटीवी प्राप्त नहीं करना कुछ भी नहीं किया जा सका है लिहाजा इस मामले में सीबीआई जांच की जाए। हाई कोर्ट के वकील नवनीश नेगी ने कहा की मृतक अंकिता के मा पिताजी ने भी कोर्ट में दरखास्त लगाई है जिस पर 11 को सुनवाई हो सकती है।