पक्षी ही नहीं बल्कि तितली और लैंडस्केप को कैद करेंगे देश भर के फोटो ग्राफर…16 से 19 तक नैनीताल वन प्रभाग में किया गया है पक्षी गणना का काम शुरू…201 से आगे और कितनी मिलेंगी चिड़िया कुछ दिन का इंतजार और..

63

नैनीताल – जी बी पंत उच्च स्थलीय प्राणी उद्यान नैनीताल में 16 नवंबर बुधवार को ओरियंटल ट्रेल के सहयोग से चार दिनों तक चलने वाले बर्ड सर्वे का आयोजन नैना देवी हिमालय बर्ड कंजर्वेशन रिजर्व नैनीताल में किया जा रहा है । उप प्रभागीय वनाधिकारी, उप निदेशक प्राणी उद्यान नैनीताल द्वारा विभिन्न राज्यों से आए प्रतियोगियों का स्वागत किया गया और नैना देवी हिमालय बर्ड कंजर्वेशन रिर्जव के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। इस प्रतियोगिता में 40 प्रतिभागी नैनीताल पहुंचे जिनमें महाराष्ट्र ,मध्य प्रदेश ,कर्नाटक, गुजरात ,राजस्थान, केरला, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश ,उड़ीसा, उत्तराखंड के प्रतिभागी भाग ले रहे हैं।अमित संकल्य ,संस्थापक ओरियंटल ट्रेल के द्वारा बर्ड सर्वे से संबंधित जानकारी दी गई । प्रतियोगिता में प्रतिभाग लेने वाले बर्ड वाचरो को 6 ग्रुपों में बांटा गया है ।हिमालय
बोटैनिकल गार्डन नारायण नगर मैं 07 बर्ड वॉचर , किलबरी में 06 बर्ड वॉचर ,विनायक में 06 बर्ड वॉचर, कुंजाखड़क में 06 बर्ड वॉचर, भवाली 08 बर्ड वॉचर, और महेशखान में 08 बर्ड वॉचर, को इन
जगहों में भेजा जायेगा।इस अवसर पर मुख्य अतिथि पद्म श्री अंतर्राष्ट्रीय छायाकार अनूप साह द्वारा प्रतियोगियों को उत्तराखंड राज्य में 790 पक्षियों की प्रजातियों की जानकारी प्रतियोगियों को दी गई ।अवसर पर वन क्षेत्राधिकारी अजय रावत ने बताया कि इस बार चिड़िया के साथ तितली और लैंडस्केप को भी शामिल किया है साथ ही कुछ अलग भी किसी भी तरह का पेड़ पौंधे भी मिलिगे उनको भी फ़ोटो में कैद करना है। अजय सिंह रावत ने बताया कि पिछली बार 201 पक्षी मील थे इस बार इनमें बढ़ोतरी हो सकती है और एक डाटा उनके सामने आ जायेगा कि नैनीताल के आस पास कितनी किश्म की पक्षी प्रजाति हैं।

नगर पालिका रेंज के दिनकर तिवारी, सोनल पनेरू कोसी वन क्षेत्र, विजय मैलकानी वन भवाली ,अरविंद कुमार वन आरक्षी ,आनंद सिस्टम एनालिस्ट, आदि लोग मौजूद रहे।