हिंसा पर हाई कोर्ट की महिला अधिवक्ताओं का कदम….तैयार करेंगी पोर्टल राज्य भर से शिकायत दर्ज कर सकेंगी महिलाएं…मिलेगी ये सुविधा आज जताई चिंता

214

नैनीताल – उत्तराखण्ड में अगर कोई महिला सेस्सुअल हैरेसमेंट का शिकार होती है तो उनकी कानूनी तौर पर उत्तराखण्ड हाईकोर्ट की महिला वकील मदद करेंगी। इसके लिये बकायदा ये महिला वकील एक पोर्टल तैयार कर रही हैं जिसमें राज्य भर की महिलाएं अपनी शिकायत दर्ज कर सकती हैं। आज महिला हिंसा अन्मूलन दिवस के मौके पर नैनीताल में कुछ महिला वकीलों ने हाईकोर्ट बार सभागार में बैठक की और महिलाओं के लिये लडाई लड़ने का फैसला लिया गया। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि कई महिलाएं अपनी शिकायतें नहीं दर्ज करती हैं क्योकिं उनको लोकलाज और हिंसा करने वालों का ड़र रहता है ऐसे में वो अपनी शिकायत इस पोर्टल में दर्ज करेंगी तो उनको कानूनी मदद ये लोग देंगे। हाईकोर्ट की महिला अधिवक्ता अंजली भर्गव ने कई सुझाव दिये और बताया कि कैसे लोग हिंसा के बाद भी चुप रह जाते हैं ऐसे में उनकी मदद जरुरी है। इसके साथ ही हाईकोर्ट बार एसोसिएशन की महिला उपाध्यक्ष चरणजीत कौर ने कहा कि जो पोर्टल तैयार करेंगे उसमें राज्य भर से कहीं से भी महिलाएं अपनी शिकायत दर्ज कर सकती हैं और कानूनी सलाह उनको पूरी तरह से मिलगी। इस पोर्टल के जरिये किसी भी तहर की महिलाओं के साथ हो रही हिंसा का सवाल महिलाएं उठा सकती हैं। हाईकोर्ट बार एसोसिएशन में कार्यक्रम के दौरान अधिवक्ता अंजली भार्गव,रीमा,गुरबानी सिंह,अर्चना,ज्ञानमति,सुखवानी,शदब शोफिया, हर्षिता समेत अन्य महिलाएं मौजूद रहे….