आमजन को लगेगा,महंगाई का एक और झटका…

0
234

अमूल व मदर डेरी ने दूध की कीमतों में बढ़ोत्तरी का किया ऐलान..

महंगाई से जूझ रही आम जनता को एक और झटका लगा है। भारत की बड़ी डेयरी कंपनियों में से एक अमूल का दूध अब और महंगा हो गया है। कंपनी ने दूध की कीमतों में दो रुपये प्रति लीटर का इजाफा किया है। नई कीमतें 17 अगस्त से लागू होंगी।

अमूल कंपनी के मैनेजमैंट ने बताया कि गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन ने दूध की कीमतों में बढ़ोतरी की है। अहमदाबाद और गुजरात के सौराष्ट्र, दिल्ली एनसीआर, पश्चिम बंगाल, मुंबई और अन्य सभी बाजारों में दूध की कीमतों में 2 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि कर दी गई है।

अमूल के बाद मदर डेयरी ने भी दूध की कीमतों में बढ़ोतरी ऐलान कर किया है। मदर डेयरी ने दिल्ली-एनसीआर में दूध की कीमतें 2 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दी है। नई कीमतें 17 अगस्त से लागू होंगी। इससे पहले इसी साल मार्च में भी मदर डेयरी ने दूध की कीमतें बढ़ाई थी।

ये होगा नया दाम…

कंपनी ने बताया है कि आधा लीटर अमूल गोल्ड की नई कीमत अब 31 रुपये होगी। अमूल ताजा की नई कीमत 25 रुपये/आधा लीटर हो गई है। अमूल काउ मिल्क के आधे लीटर पैक की नई कीमत 27 रुपये होगी। अमूल शक्ति के आधा लीटर पैकेट की कीमत 28 रुपये हो जाएगी। अमूल व मदर डेरी द्वारा दाम बढ़ाए जाने के बाद अन्य कंपनियां भी दूध के दाम बढ़ा सकती हैं।

दूध कंपनियों ने कहा कि बढ़ गई है उत्पादन लागत…

दूध कंपनियों का कहना है कि संचालन और उत्पादन की लागत बढ़ने के कारण दूध के दाम दो रुपये प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं। पिछले वर्ष की तुलना में पशु आहार की लागत लगभग 20 प्रतिशत तक बढ़ गई है। अमूल ने कहा कि इनपुट लागत में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए हमारी यूनियन के सदस्यों ने पिछले वर्ष की तुलना में किसानों को दी जाने वाली कीमतों में 8-9 फीसद की वृद्धि भी की है।

अर्थशास्त्री देश मे महंगाई दर घटने की कर रहे हैं घोषणा पर मामला है ठीक उलट…

कुलमिलाकर दूध के मूल्य बढ़ाये जाने के पीछे दूध कंपनियों का तर्क चाहे कुछ भी हो पर इससे आमजन पर ज्यादा बोझ बढेगा।दूध के मूल्य बढ़ाये जाने से पनीर,मक्खन,घी आदि के मूल्य भी जल्द ही बढ़ जाएंगे।जिससे जेब तो आमजन का ही हल्का होगा। लेकिन केंद्र सरकार की माने तो दो दिन पूर्व ही महंगाई दर 7% से कम होने के दावे किए गए थे।जब तक डीज़ल,पेट्रोल के मूल्य कम नही किये जायेंगे तब तक महंगाई दर में कमी पूरी तरह से नियंत्रित नही हो पाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here