एक दरोगा ऐसा भी….पुलिस का जनता दरबार….ग्रामीणों को जागरूक कर रहे हैं नैनीताल पुलिस का ये दरोगा…पुलिस का डर निकालकर उनके कानूनी अधिकार बता रहे हैं एसआई..

147

नैनीताल – आम तौर पर पुलिस के लिए लोगों की धारणा ऐसी होती है कि पुलिस का नाम सुनते ही लोग खौफ़ में आ जाएं। कई बार तो पुलिस को अपने सिपाहियों और अधिकारियों की वजह से भी विभाग के लिए मुसीबत भी खड़ी हो गयी लेकिन नैनीताल के एक चौकी इंचार्ज ने पुलिस का डर दूर करने के लिए मुहिम छेड़ रखी है। पुलिस का डर आम आदमी से हटाने के लिये एसआई दिलीप कुमार द्वारा गावँ गावँ जाकर पुलिस दरबार लगाया जा रहा है। वहीं ग्रामीण भी पुलिस की इस पहल की तारीफ कर रहे हैं।

पुलिस का दरबार

दरअसल नैनीताल पुलिस के दरोगा दिलीप कुमार खैरना चौकी इंचार्ज हैं। तबादले के बाद खैरना में पहुंचे दिलीप ने हाई-वे पर ढाबों और होटलों में शराब पिलाने वालों पर नकेल कसा तो गाड़ियों में अवैध रूप से सामान ढोने वालों पर भी कार्रवाई की। अब दिलीप खैरना चौकी इंचार्ज ने ग्रामीण इलाकों में पुलिस दरबार लगाने शुरू किए हैं। रविवार को एसआई दिलीप ने ग्राम उलगौर, रूपसिंह धूरा के ग्रामीणों के साथ मुलाकात की और लोगों की समस्याएं सुनी।इस दौरान ग्रामीणों को दरोगा ने सरल कानूनी की जानकारी के साथ कानून में उनके अधिकारों की जानकारी दी। गावँ के लोगों को जागरूक करते हुए यातायात नियमों का पालन करने, रोड सेफ्टी नियम व साइबर अपराध, नशा ,बाल अपराध, महिला संबंधी अपराध,घरेलू हिंसा, ह्यूमन ट्रैफिकिंग से बचाव व स्कूल कॉलेजों में हो रहे शोषण, अपराध और बचाव संबंधी सुझाव देकर जागरूक किया। इस दौरान दिलीप कुमार ने हेल्पलाइन नंबर 112, 1090, 1098,1930,1905 में शिकायत दर्ज करने हेतु जागरूक किया गया। और सोशल मीडिया आदि अफवाहों से बचने व ग्रामीण युवाओं को किसी भी प्रकार से लोगों के झांसे में ना आने व कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु समझाया गया। और बताया गया कि किसी भी प्रकार से सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान करने व कानून व्यवस्था भंग करने वालों के खिलाफ पुलिस द्वारा कड़ी कार्रवाई करने की बात कही हैं। इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि उनको जानकारी दी जा रही है अगर पुलिस गावँ और लोगों से लगातार मुलाकात करे और उनकी समस्याओं का हल करे तो एक बढ़िया माहौल पुलिस के लिए होगा और गावँ में पुलिस का डर कम होगा।