यहां तेंदुए ने 95 वर्षीय महिला को बनाया निवाला

6
विज्ञापन

 

लगातार वन्य जीवों द्वारा मानव पर हमला करने की वारदात बढ़ती जा रही है। जिला बागेश्वर के एक गांव में एक तेंदुए ने 95 वर्षीय महिला को निवाला बना दिया। इधर घटना के बाद गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है। क्षेत्रवासियों ने तेंदुए को आदमखोर घोषित कर मारने की मांग की है। वही सुरक्षा की दृष्टि से वन विभाग की टीम ने मौका मुुआयना कर गांव में पिंजड़ा लगा दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला बागेश्वर काफलीगैर तहसील के असों गांव में तेंदुए ने बुजुर्ग महिला को मौत के घाट उतार दिया है। हादसे के बाद क्षेत्र के लोगों ने तेेंदुए को आमदखोर घोषित कर मारने की मांग की है। इधर सूचना के बाद मौके पर पहुंची झिरौली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है।

बताया जा रहा है कि असों गांव की (95) वर्षीय बुजुर्ग अपने घर में अकेली रहती थी। देर रात को वह रोजाना की तरह खाना खाकर सोने चली गई थी। सुबह उनके भतीजा उसे चाय देने गए तो वह घर के अंदर नहीं थी। उन्होंने आसपास खोजा तो देखा कि आंगन में खून की बूंदे पड़ी हैं। खून की बूंदें खेतों तक जा रही थी। आगे करीब 40 मीटर की दूरी पर उन्होंने खून से लथपथ और खाल उतरी हुई एक खोपड़ी देखी, कुछ आगे बुजुर्ग महिला का धड़ भी पड़ा था। खेतों में घसीटे जाने के ‌निशान भी थे। जिसके बाद इसकी खबर पूरे गांव में फैल गई और वहां भीड़ जमा हो गई। इधर सुरक्षा की दृष्टि से वन विभाग की टीम ने मौका मुुआयना कर गांव में पिंजड़ा लगा दिया है।