हाय राम… डॉक्टर पर लगाया उगाही का आरोप, उपकरण की एवज में डॉक्टर ने बच्चे के पिता से लिए 30 हजार

57

कहते हैं कि जब कोई बीमार हो या किसी पीड़ा से ग्रस्त हो तो पहले भगवान का नाम मुंह से निकलता है, फिर डॉक्टर में ही उसे भगवान दिखता है। अगर डॉक्टर पर ही आरोप लग जाए तो क्या होगा.. ?? जी हां डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल में सर्जरी विभाग के एक डॉक्टर पर उगाही का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि बच्चे का इलाज कराने आए एक व्यक्ति ने इस संबंध में मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य को लिखित शिकायत दी है। मामले में संज्ञान लेकर प्राचार्य ने मामले में एमएस ‌व सर्जरी विभाग के एचओडी से जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है।

शिकायती पत्र के अनुसार यूपी निवासी एक व्यक्ति अपने बच्चे का इलाज को सुशीला तिवारी अस्पताल पहुंचा। इस दौरान बच्चे को पेट से संबंधित बीमारी होने की बात कहकर ऑपरेशन की बात कही गई। बताया कि कमजोर आर्थिक स्थिति को देखते हुए अस्पताल प्रबंधक ने उसे इलाज पर 50 प्रतिशत छूट प्रदान की। आरोप है कि सर्जरी विभाग के एक डॉक्टर ने बच्चे के इलाज में एक महंगे उपकरण के इस्तेमाल की बात कही। इसके बाद डॉक्टर ने बताया कि उन्होंने कंपनी से सीधे उपकरण मंगवा लिया है। आरोप है कि उपकरण की एवज में डॉक्टर ने बच्चे के पिता से 30 हजार रुपये ले लिए। लेकिन जब पिता ने उपकरण का बिल मांगा तो डॉक्टर ने देने से इनकार कर दिया। इस पर बच्चे के पिता ने हंगामा कर दिया और प्राचार्य डॉ. अरुण जोशी को लिखित शिकायत दी। प्राचार्य डॉ.जोशी ने बताया कि मामले में जांच कर जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।