एफ.आई.आर दर्ज किये जाने के बाद भी मो.फ़ैज़ के हौसले नहीं टूटे..कहने लगा श्रद्धा मर्डर केस की तरह तुम्हारे भी 36 टुकड़े कर जंगल में फेंक दूंगा…

167

एक तरफ़ा प्यार में मो.फ़ैज़ ने नाबालिक लड़की के परिजनों को धमकाया..शादी करा दो नही तो कर दूंगा टुकड़े-टुकड़े…

उत्तर प्रदेश के कानपुर महानगर के नौबस्ता थाना क्षेत्र के किदवई नगर वाई-वन ब्लॉक का है।जहाँ एकतरफा प्यार के चलते एक युवक ने दिल्ली की श्रद्धा मर्डर केस की तरह लड़की को शादी न करने पर जान से मारने की धमकी दी। मामला बढ़ने पर युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। और उसको कोर्ट में पेशकर जेल भेज दिया है।

दरअसल कुछ दिनों से आरोपी युवक मो.फ़ैज़ आते जाते 17 वर्षीय लड़की का पीछा करता रहता था।घर से निकलते, स्कूल, कोचिंग जाने के रास्तों पर पीछा करके उसे परेशान करने लगा। इस वजह से तंग आकर छात्रा के पिता ने मो.फ़ैज़ के खिलाफ नौबस्ता थाने में छेड़खानी और अश्लीलता करने और पाक्सो एक्ट की धारा में एफआईआर दर्ज करा दी थी।उक्त रिपोर्ट करवाने से मो.फ़ैज़ नाराज़ हो गया और कहने लगा कि मुझसे शादी करले नही तो श्रद्धा की तरह तुम्हारे भी 36 टुकड़े करके जंगल में फेंक दूंगा। तुम लोगों ने मेरे खिलाफ छेड़खानी की एफ.आई.आर दर्ज कराई है। अब तुम्हारी बेटी को घर से उठा ले जाऊंगा और फिर टुकड़े-टुकड़े कर दूंगा। तुम लोग मेरा कुछ नहीं बिगाड़ पाओगे।

एफ.आई.आर दर्ज किये जाने के बाद भी मो.फ़ैज़ के हौसले नहीं टूटे..कहने लगा 36 टुकड़े कर जंगल में फेंक दूंगा…

थाने में एफ.आई.आर दर्ज कराने के बाद भी मो.फ़ैज़ के हौसले नहीं टूटे,उल्टा 25 नवंबर को छात्रा के घर के बाहर पहुंच कर उसके भाई से मारपीट करने लगा।और नाबालिग लड़की से कहने लगा कि मुझसे शादी कर लो नहीं तो तुम्हें जिंदा नहीं छोडूंगा। श्रद्धा की तरह तुम्हारे भी टुकड़े-टुकड़े करके जंगल में फेंक दूंगा।इतना ही नहीं उक्त युवक ने अपनी कलाई की नस ब्लेड से काटने का ड्रामा भी किया।मामले में पूर्व में रिपोर्ट दर्ज किये जाने के बाद भी उत्तरप्रदेश पुलिस सोती रही।पीड़ित परिवार ने पुलिस के उच्चाधिकारियों से भी संबंध में कार्यवाही किये जाने का अनुरोध किया पर नताज़ा सिफर ही रहा। जब आरोपी मो.फ़ैज़ लड़की के घर तक पहुंच कर धमकाने लगा तो पुलिस हरकत में आई और आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

पॉक्सो एक्ट के तहत हुई गिरफ्तारी..ए.सी.पी नौबस्ता अभिषेक कुमार पांडे…

ए.सी.पी नौबस्ता अभिषेक कुमार पांडे ने बताया कि 16 अक्टूबर को मोहम्मद फैज के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। जिस पर कार्यवाही करते हुए मो.फ़ैज़ को गिरफ़्तार कर लिया गया है।

 

नव वर्ष 2023 की शुभ कामनाएँ।